• वेबपेज
  • डॉक्यूमेंट
  • एच डी एफ सी लाइफ क्लासिकएश्योर प्लसइन्वेस्टमेंट
  • एच डी एफ सी लाइफ क्लासिकएश्योर प्लसइन्वेस्टमेंट
  • एच डी एफ सी लाइफ क्लासिकएश्योर प्लसइन्वेस्टमेंट

NRI कस्टमर्स के लिए

(पॉलिसी खरीदने के लिए)

(अगर आप हमारे मौजूदा कस्टमर हैं)

ऑनलाइन पॉलिसी खरीदने के लिए

(नए और जारी एप्लीकेशन)

ब्रांच खोजें

मौजूदा कस्टमर के लिए

(जारी की गई पॉलिसी)

फंड परफॉर्मेंस चेक करें

हेल्थ इंश्योरेंस प्लान

अपने और अपने परिवार को अप्रत्याशित मेडिकल खर्चों से बचाने के लिए हेल्थ इंश्योरेंस प्लान आवश्यक हैं. ...अधिक पढ़ें

अपने मेडिकल खर्चों को कवर करने के लिए एच डी एफ सी लाइफ के विभिन्न हेल्थ प्लान देखें
एच डी एफ सी लाइफ के हेल्थ प्लान के साथ आप किफायती दरों पर मेडिकल इंश्योरेंस ले सकते हैं

कोटेशन मुफ्त पाएं

हम अपने कस्टमर की प्राइवेसी का पूरा ध्यान रखते हैं और उन्हें अनावश्यक मैसेज नहीं भेजते हैं.

मैं एच डी एफ सी लाइफ और इसके प्रतिनिधियों को कॉल, ईमेल, SMS या व्हॉट्सऐप के माध्यम से मुझसे संपर्क करने के लिए अधिकृत करता/करती हूं. यह सहमति DNC/NDNC के तहत मेरे रजिस्ट्रेशन को ओवरराइड करती है (इसका मतलब है कि अगर आप किसी डू नॉट डिस्टर्ब लिस्ट में रजिस्टर्ड हैं, तो भी हम आपसे संपर्क कर सकेंगे).

Health Insurance Plans
Francis Rodrigues फ्रांसिस रॉड्रिग्स

फ्रांसिस रॉड्रिग्स के पास बीमा क्षेत्र में एक दशक का लंबा अनुभव है, और वे एच डी एफ सी लाइफ में SVP, ई-कॉमर्स और डिजिटल मार्केटिंग की भूमिका में ऑनलाइन सेल्स चैनल के साथ-साथ डिजिटल और परफॉर्मेंस मार्केटिंग का प्रबंधन करते हैं. 2 दशकों के करियर में उन्हें शुरुआत से सेल्स चैनल और फंक्शनल टीम स्थापित करने का अच्छा खासा अनुभव रहा है.

LinkedIn profile

Author Profile लेखक:
Vishal Subharwal विशाल सुभरवाल

विशाल सुभरवाल एच डी एफ सी लाइफ में स्ट्रेटजी, मार्केटिंग, ई-कॉमर्स, डिजिटल बिज़नेस और स्थिरता वाले पहलों का नेतृत्व करते हैं. वे पूरे संगठन के लिए स्ट्रेटजी बनाने और इसका सफल कार्यान्वन सुनिश्चित करने के लिए ज़िम्मेदार हैं.

LinkedIn profile

Reviewed By समीक्षाकर्ता:

हेल्थ इंश्योरेंस क्या है?

image-star image-star image-star image-star image-star image-star image-cloud image-cloud image-cloud moon Understanding Health Insurance

हेल्थ इंश्योरेंस एक प्रकार का इंश्योरेंस कवरेज है जो बीमित व्यक्ति के मेडिकल और सर्जिकल खर्चों के लिए भुगतान करता है. यह महंगे मेडिकल प्रोसीज़र, हॉस्पिटलाइजेशन की लागत और अन्य हेल्‍थकेयर खर्चों के लिए फाइनेंशियल सुरक्षा प्रदान करता है. इंश्योरेंस पॉलिसी किसी इंश्योरेंस कंपनी और पॉलिसीधारक के बीच का एक कॉन्ट्रैक्ट है, जहां इंश्योरेंस कंपनी पॉलिसीधारक द्वारा भुगतान किए गए एक निश्चित प्रीमियम के बदले पॉलिसीधारक के हेल्थकेयर खर्चों का भुगतान करने के लिए सहमत होती है.

हेल्थ इंश्योरेंस प्लान सामान्‍य तौर पर हॉस्पिटलाइज़ेशन, डॉक्टर की कंसल्टेशन, डायग्नोस्टिक टेस्ट, दवाओं और सर्जरी सहित विभिन्न प्रकार के उपचार के लिए कवरेज प्रदान करता है. नियमित प्रीमियम का भुगतान करके, पॉलिसीधारक इंश्योरेंस कवरेज का लाभ प्राप्‍त कर सकते हैं और फाइनेंशियल बोझ की चिंता किए बिना आवश्यक मेडिकल केयर प्राप्त कर सकते हैं.

बीमा कंपनी इन दो चैनलों के माध्यम से पॉलिसीधारकों को क्षतिपूर्ति प्रदान करती है:

-कैशलेस ट्रीटमेंट के रूप में, जिसमें पॉलिसीधारक को नेटवर्क हॉस्पिटल को कुछ भी भुगतान नहीं करना होता है, क्योंकि बीमा कंपनी सीधे हॉस्पिटल का भुगतान करती है.

-दूसरा विकल्प रीइम्बर्समेंट है. इस मामले में, पॉलिसीधारक को ट्रीटमेंट के समय मेडिकल खर्चों का भुगतान करना पड़ता है, बाद में बीमा कंपनी इस राशि का रीइम्बर्समेंट कर देती है.

हेल्थ इंश्योरेंस - एक नज़र में

विशेषताएं

हेल्थ इंश्योरेंस

कवरेज की संभावना

यह पॉलिसी प्रीवेंटिव और मेडिकल ट्रीटमेंट दोनों के लिए कवरेज प्रदान करती है, जिसमें स्क्रीनिंग टेस्ट, वार्षिक मेडिकल चेक-अप, टीकाकरण और हॉस्पिटलाइज़ेशन के खर्च शामिल हैं.

क्लेम्स

प्रत्येक बीमा प्रदाता हर वर्ष फाइल किए जा सकने वाले क्लेम के लिए अधिकतम सीमा निर्धारित करता है.

प्रीमियम

हेल्थ इंश्योरेंस बहुत सी सर्विसेज़ को कवर करता है, शायद इसी कारण इसके लिए उच्च प्रीमियम का भुगतान करना होता है.

सम इंश्योर्ड

यह किसी व्यक्ति द्वारा चुने गए प्लान पर निर्भर करता है.

ऐड-ऑन कवर

कोई भी अपनी आवश्यकता के आधार पर इन्हें चुन सकता है.

हेल्थ इंश्योरेंस प्लान किन प्रकार के होते हैं?

मार्केट में कई प्रकार के हेल्थ इंश्योरेंस प्लान उपलब्ध हैं. विभिन्न हेल्थकेयर आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए एच डी एफ सी लाइफ निम्नलिखित हेल्थ इंश्योरेंस प्लान ऑफर करता है:

1

व्यक्तिगत स्वास्थ्य बीमा

यह प्‍लान इंडिविजुअल पॉलिसीधारक के मेडिकल खर्चों को कवर करता है. यह हॉस्पिटलाइज़ेशन, हॉस्पिटलाइज़ेशन से पहले और बाद के खर्चों, डे-केयर प्रोसीज़र और अन्य मेडिकल खर्चों के लिए इंडिविजुअल कवरेज प्रदान करता है.

2

पारिवारिक स्वास्थ्य बीमा

फैमिली हेल्थ इंश्योरेंस प्लान एक ही पॉलिसी और सम इंश्योर्ड के तहत पूरे परिवार को कवरेज प्रदान करते हैं. यह बीमित व्यक्ति, उनके जीवनसाथी, बच्चों और आश्रित माता-पिता के मेडिकल खर्चों को कवर करता है.

3

वरिष्ठ नागरिक स्वास्थ्य बीमा

यह प्‍लान विशेष रूप से एक निश्चित आयु से अधिक के व्यक्तियों के लिए तैयार किया गया है. यह उम्र से संबंधित बीमारियों और सीनियर सिटीज़न के अन्य मेडिकल खर्चों के लिए कवरेज प्रदान करता है.

4

क्रिटिकल इलनेस इंश्योरेंस

क्रिटिकल इलनेस इंश्योरेंस प्लान कैंसर, मेजर ऑर्गन फे‍लियर, हृदय रोग, ब्‍लाइंडनेस स्‍ट्रोक आदि जैसी जानलेवा बीमारियों के लिए कवरेज प्रदान करते हैं. ये प्लान बीमारी के डायग्नोसिस पर एकमुश्त राशि प्रदान करते हैं, जिसका उपयोग पॉलिसीधारक मेडिकल उपचार, रिकवरी और अन्य आवश्यकताओं के लिए कर सकते हैं.

एच डी एफ सी लाइफ द्वारा प्रदान किए जाने वाले हेल्थ प्लान कौन से हैं?

आप बस अपने स्वस्थ होने पर ध्यान दें; हम आपके मेडिकल खर्चों का भुगतान करेंगे.

हेल्थ इंश्योरेंस प्लान के क्या लाभ हैं?

हेल्थ इंश्योरेंस प्लान लेने से कई लाभ मिलते हैं, जिनमें निम्‍न शामिल हैं:

1

फाइनेंशियल सुरक्षा

हेल्थ इंश्योरेंस प्‍लान, मेडिकल एमरजेंसी के दौरान फाइनेंशियल सहायता प्रदान करते हैं. ये हॉस्पिटलाइज़ेशन के खर्च, डॉक्टर की फीस, दवाएं, डायग्नोस्टिक टेस्ट और अन्य मेडिकल खर्चों को कवर करते हैं और यह सुनिश्चित करते हैं कि आपको अपने इलाज के खर्चों के बारे में चिंता करने की आवश्यकता नहीं पड़े.

2

कैशलेस हॉस्पिटलाइज़ेशन

कैशलेस हॉस्पिटलाइज़ेशन के साथ, पॉलिसीधारक बिना कोई अग्रिम भुगतान किए मेडिकल उपचार का लाभ ले सकते हैं. इंश्योरेंस कंपनी सीधे हॉस्पिटल को बिल का भुगतान करती है, इस वजह से यह, बीमित व्यक्ति के लिए सुविधाजनक हो जाता है.

3

हॉस्पिटल में भर्ती होने से पहले और बाद के कवरेज

हेल्थ इंश्योरेंस प्लान हॉस्पिटल में भर्ती होने से पहले और बाद के खर्चों जैसे डॉक्टर की कंसल्टेशन, डायग्नोस्टिक टेस्ट, दवाओं और फॉलो-अप उपचार को भी कवर करते हैं.

4

टैक्स लाभ

हेल्थ इंश्योरेंस प्लान के लिए भुगतान किए गए प्रीमियम इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80D के तहत टैक्स कटौती के लिए पात्र हैं.

5

अतिरिक्त कवरेज

कुछ हेल्थ इंश्योरेंस प्लान मैटरनिटी खर्चों, क्रिटिकल इलनेस, आकस्मिक चोटों और अन्य विशिष्ट हेल्थकेयर आवश्यकताओं के लिए अतिरिक्त कवरेज प्रदान करते हैं.

 हेल्थ इंश्योरेंस के टैक्स लाभ 

 

हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी का सबसे बड़ा लाभ फाइनेंशियल सुरक्षा प्रदान करना है, लेकिन इसके अन्य बहुत से लाभ भी हैं. हेल्थ इंश्योरेंस से मिलने वाला एक बड़ा लाभ टैक्स लाभ है, जिसके कारण भी बहुत से लोग पॉलिसी लेते हैं. यह इसलिए है क्योंकि हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के लिए भुगतान किया गया प्रीमियम इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80D के तहत छूट के लिए पात्र है. हालांकि, कटौती की राशि की अधिकतम लिमिट ₹ 25,000 है जो सीनियर सिटीज़न के लिए ₹ 50,000 तक जा सकती है.

उस मामले में, पॉलिसीधारक टैक्स योग्य आय से ₹ 75,000 तक की कटौती का लाभ उठा सकता है.

कुछ मामलों में, जब पॉलिसीधारक और उसके माता-पिता की आयु 60 वर्ष से अधिक होती है, तो कटौती योग्य राशि ₹ 1 लाख तक हो सकती है. यह कटौती प्रीमियम भुगतान की रसीद और बीमा पॉलिसी की कॉपी प्रदान करके क्लेम की जा सकती है, जिनमें परिवार के सदस्यों का नाम, संबंध और उम्र का विवरण दिया होता है.

इसके अलावा, अगर कैश की बजाय किसी अन्य माध्यम से प्रीमियम का भुगतान किया जाता है, तो भी इस कटौती का लाभ उठाया जा सकता है.

हेल्थ इंश्योरेंस के वैकल्पिक ऐड-ऑन

वैकल्पिक ऐड-ऑन या राइडर अतिरिक्त लाभ होते हैं, जिन्हें आपके हेल्थ इंश्योरेंस प्लान में जोड़कर बेहतर कवरेज प्राप्‍त किया जा सकता है. एच डी एफ सी लाइफ निम्नलिखित वैकल्पिक ऐड-ऑन प्रदान करता है:

Hospital Cash Benefits

हॉस्पिटल कैश बेनिफिट

यह ऐड-ऑन हॉस्पिटलाइज़ेशन के प्रत्येक दिन के लिए एक निश्चित दैनिक भत्ता प्रदान करता है, जिसका उपयोग विभिन्‍न खर्चों को कवर करने के लिए किया जा सकता है.

Covers Critical Illness

क्रिटिकल इलनेस कवर

यह पॉलिसी के तहत कवर की गई गंभीर बीमारियों के डायग्नोसिस पर एकमुश्त राशि प्रदान करता है, जिससे इन बीमारियों के इलाज और रिकवरी के लिए फाइनेंशियल सहायता मिलती है.

Maternity Cover

मातृत्व कवर

यह राइडर गर्भावस्था और प्रसव से संबंधित मेडिकल खर्चों को कवर करता है, जिसमें प्रसव पूर्व और प्रसव के बाद की देखभाल, डिलीवरी शुल्क और नवजात शिशु कवरेज शामिल हैं.

Personal Accident Cover

पर्सनल एक्सीडेंट कवर

यह आकस्मिक चोटों, विकलांगता और आकस्मिक मृत्यु के लिए कवरेज प्रदान करता है.

इन वैकल्पिक राइडर को अपने हेल्थ इंश्योरेंस प्लान में जोड़कर इसके कवरेज को बढ़ाया जा सकता है जिससे मेडिकल एमरजेंसी के दौरान कॉम्प्रिहेंसिव फाइनेंशियल सुरक्षा सुनिश्चित होती है.

आपको मेडिकल इंश्योरेंस क्यों चाहिए?

आज के समय में हेल्थ इंश्योरेंस खरीदना बहुत ज़रूरी है, इसके कई कारण हैं -

Health Insurance Plans Provides Financial Protection

फाइनेंशियल सुरक्षा प्रदान करता है

 जैसा कि हम जानते हैं, मेडिकल एमरजेंसी कभी भी और कहीं भी आ सकती है. ऐसी स्थिति में, फाइनेंशियल सुरक्षा बहुत ज़रूरी हो जाती है, क्योंकि कैंसर, हृदय रोग और फेफड़ों की बीमारियां आपकी फाइनेंशियल स्थिति को बुरी तरह से प्रभावित कर सकती हैं. पर्याप्त फाइनेंशियल कवरेज के साथ एक ऐसा हेल्थ इंश्योरेंस प्लान लेना जो विभिन्न प्रकार के नेटवर्क हॉस्पिटल्स में कैशलेस ट्रीटमेंट प्रदान करता है, आपके लिए सर्वश्रेष्ठ विकल्प है.

Health Insurance Plans Acts as a shield against rising inflation

बढ़ती महंगाई के खिलाफ एक कवच के रूप में कार्य करता है

महंगाई को मात नहीं दी जा सकती, लेकिन इसका असर ज़रूर कम किया जा सकता है, हेल्थ इंश्योरेंस खरीदना ऐसा करने का एक अच्छा तरीका है. यह आपको एमरजेंसी के समय मेडिकल खर्चों से निपटने में मदद करता है, जिसमें उपकरण की लागत, ट्रीटमेंट की लागत, दवाओं और डायग्नोस्टिक टेस्ट में हुए खर्च शामिल हैं.

Health Insurance Plans Provides tax exemption

टैक्स छूट प्रदान करता है

हेल्थ इंश्योरेंस, पॉलिसी के लिए भुगतान किए गए प्रीमियम पर इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80D के तहत ₹25,000 तक की टैक्स कटौती का क्लेम करने का एक बेहतरीन तरीका भी है. आपके पति/पत्नी या बच्चों के लिए भी कटौतियों का क्लेम किया जा सकता है. 

Health Insurance Plans are Affordable

किफायती प्लान ऑफर करता है

हेल्थकेयर की बढ़ती लागतों को देखते हुए आज के समय में हेल्थ इंश्योरेंस खरीदना बहुत ज़रूरी हो गया है. कम उम्र में हेल्थ इंश्योरेंस खरीदना एक बुद्धिमानी भरा निर्णय है, क्योंकि इस स्थिति में प्रीमियम काफी कम होगा. इसके अलावा, युवा पॉलिसीधारकों को बीमा लेने के लिए हेल्थ चेक-अप करवाने की आवश्यकता नहीं होती है.

Health Insurance Plans Protects against changing lifestyle

लाइफस्टाइल में बदलाव के खिलाफ सुरक्षा प्रदान करता है

आज हम जो लाइफस्टाइल जी रहे हैं, उसमें डायबिटीज, हार्ट और किडनी की समस्याएं होने का बहुत अधिक खतरा होता है. इसलिए कॉम्प्रिहेंसिव हेल्थ इंश्योरेंस प्लान के साथ अपनी हेल्थ को पहले से सुरक्षित करना महत्वपूर्ण है.

भारत में सबसे बेहतर हेल्थ इंश्योरेंस प्लान कैसे चुनें?

सबसे बेहतर हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी चुनने के लिए कई कारकों पर सावधानीपूर्वक विचार करने की आवश्यकता होती है. आप नीचे दी गई बातों का ध्यान रखकर अपनी हेल्थकेयर आवश्यकताओं के लिए सबसे उपयुक्त प्लान चुन सकते हैं:

1

अपनी हेल्थकेयर आवश्यकताओं का आकलन करें

अपनी हेल्‍थकेयर आवश्यकताओं को निर्धारित करें और तय करें कि आपको कितने कवरेज की ज़रूरत है. आयु, पहले से मौजूद बीमारियां, फैमिली मेडिकल रिकॉर्ड और किसी भी विशिष्ट मेडिकल आवश्यकता जैसे कारकों को ध्‍यान में रखें.

2

सम इंश्योर्ड

विभिन्न हेल्थ इंश्योरेंस प्‍लान द्वारा ऑफर किए जाने वाले सम इंश्‍योर्ड का मूल्यांकन करें. सुनिश्चित करें कि सम इंश्योर्ड आपके मेडिकल खर्चों को कवर करने के लिए पर्याप्त हो.

3

अस्पताल का नेटवर्क

हेल्थ इंश्योरेंस प्रोवाइडर से जुड़े नेटवर्क हॉस्पिटल की लिस्ट चेक करें. सुनिश्चित करें कि नेटवर्क हॉस्पिटल प्रतिष्ठित हों और वहां पहुंचना आसान हो.

4

कवरेज और लाभ

विभिन्न हेल्थ इंश्योरेंस प्लान द्वारा ऑफर किए जाने वाले कवरेज और लाभों की तुलना करें. कम्प्रीहेंसिव कवरेज की तलाश करें, जिसमें हॉस्पिटलाइज़ेशन के खर्च, हॉस्पिटलाइज़ेशन से पहले और बाद के कवरेज, आउटपेशेंट या बाह्य रोगी के रूप में उपचार और गंभीर बीमारियों के लिए कवरेज शामिल हों.

5

प्रीमियम और कटौतियां

 हेल्थ इंश्योरेंस प्लान से जुड़ी प्रीमियम राशि और कटौतियों पर ध्‍यान दें. ऐसे प्लान चुनें जिसमें किफायती प्रीमियम पर संतुलन के साथ कॉम्प्रिहेंसिव कवरेज मिले.

6

पॉलिसी की नियम और शर्तें

वेटिंग पी‍रियड, एक्सक्लूज़न और क्लेम सेटलमेंट प्रक्रियाओं सहित, हेल्थ इंश्योरेंस प्लान के नियम और शर्तों को ध्‍यान से पढ़ें और समझें.

भारत में हेल्थ इंश्योरेंस कैसे खरीदें?

हेल्थ इंश्योरेंस खरीदना आपके फाइनेंशियल भविष्य को सुरक्षित करने और गुणवत्तापूर्ण हेल्थकेयर सुविधा सुनिश्चित करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम होता है. एच डी एफ सी लाइफ से इंश्योरेंस खरीदने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करें:

1

अपनी हेल्थकेयर आवश्यकताओं को जानें

अपनी हेल्थकेयर आवश्यकताओं और अपने और अपने परिवार के लिए आवश्यक कवरेज का आकलन करें.

2

इंश्योरर की वेबसाइट पर जाएं

एच डी एफ सी लाइफ के हेल्थ इंश्योरेंस पेज पर जाएं और उपलब्ध विकल्प देखें. 

3

सही प्लान चुनें

एक ऐसा हेल्थ इंश्योरेंस प्लान चुनें जो आपकी हेल्थकेयर आवश्यकताओं और बजट के अनुरूप हो और कॉम्प्रिहेंसिव कवरेज प्रदान करता हो.

4

पॉलिसी की शर्तों को समझें

पॉलिसी खरीदने से पहले इसके नियम, शर्तों और एक्सक्लूज़न को अच्छी तरह पढ़ें और उन्हें समझें.

5

एक्सपर्ट की सलाह लें

किसी भी प्रश्न और संदेह के संबंध में सहायता और स्पष्टीकरण के लिए इंश्योरेंस सलाहकारों या एजेंटों से परामर्श लें.

6

ऑनलाइन या ऑफलाइन अप्लाई करें

आवश्यक एप्लीकेशन फॉर्म को ऑनलाइन या ऑफलाइन भरें, इसमें आपके और कवर किए जाने वाले आपके परिवार के सदस्यों के बारे में सही जानकारी प्रदान करें.

7

भुगतान करें

प्रीमियम राशि का भुगतान अपनी पसंद के भुगतान माध्यम से ऑनलाइन या ऑफलाइन करें.

8

वेरिफिकेशन पूरा करें

वेरिफिकेशन के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट जमा करें और अपने हेल्थ इंश्योरेंस एप्लीकेशन के अप्रूवल की प्रतीक्षा करें.

9

पॉलिसी प्राप्त करें

आपका एप्लीकेशन स्वीकार हो जाने के बाद, आपको पॉलिसी डॉक्यूमेंट प्राप्त होगा, जिसमें आपके कवरेज विवरण की पूरी जानकारी होगी.

ऑनलाइन हेल्थ इंश्योरेंस प्लान कैसे खरीदें?

हेल्थ इंश्योरेंस के लिए ऑनलाइन प्लेटफॉर्म ने सुविधा और पहुंच प्रदान करके इंश्योरेंस इंडस्ट्री में क्रांति ला दी है. परेशानी मुक्त ट्रांज़ैक्शन करने के लिए कृपया दिए गए दिशानिर्देशों का पालन करें:

1

रिसर्च

विभिन्न इंश्योरेंस कंपनियों द्वारा ऑफर किए जाने वाले प्लान, लाभों और प्रीमियम की तुलना करने के लिए विभिन्न इंश्योरेंस वेबसाइट देखें.

2

अपने प्लान को कस्टमाइज़ करें

अपनी ज़रूरतों के अनुसार कवरेज विकल्प, सम इंश्योर्ड और विशेषताओं को चुनकर अपना प्लान तैयार करें.

3

सटीक जानकारी प्रदान करें

एप्लीकेशन फॉर्म ऑनलाइन भरें, सुनिश्चित करें कि सारी जानकारी सही और अप-टू-डेट हो.

4

ऑनलाइन भुगतान करें

क्रेडिट/डेबिट कार्ड, नेट बैंकिंग या वॉलेट जैसे विकल्पों के साथ सुरक्षित ऑनलाइन पेमेंट गेटवे का उपयोग करके प्रीमियम का भुगतान करें.

5

वेरिफाई करें और पॉलिसी प्राप्त करें

आवश्यक वेरिफिकेशन प्रोसेस पूरी करें, और अप्रूवल के बाद, तुरंत ईमेल के माध्यम से पॉलिसी डॉक्यूमेंट प्राप्त करें.

हेल्थ इंश्योरेंस ऑनलाइन खरीदना एक आसान और समय-दक्ष प्रोसेस है, जो पूरी तरह सुविधा और पारदर्शिता प्रदान करती है.

हेल्थ इंश्योरेंस प्लान किसे खरीदना चाहिए?

हेल्थ इंश्योरेंस प्लान हर आयु वर्ग के लोगों के लिए आवश्यक होते हैं, ये प्लान इन्हें फाइनेंशियल सिक्योरिटी और बेहतरीन हेल्थकेयर सुविधाओं तक पहुंच प्रदान करते हैं. इन वर्ग के लोगों को हेल्थ इंश्योरेंस खरीदने से फायदा होगा:

Young Individuals

युवा व्यक्ति

कम उम्र में प्लान लेने से कम प्रीमियम और कॉम्प्रिहेंसिव कवरेज प्राप्त करने में मदद मिलती है, जिससे अप्रत्याशित मेडिकल खर्चों से सुरक्षा सुनिश्चित होती है.

Families

परिवार

ऐसी विशेष फैमिली हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी हैं, जो पति/पत्नी, बच्चों और आश्रित माता-पिता सहित आपके परिवार की हेल्थकेयर आवश्यकताओं को कवर करती हैं, जिससे सभी की हेल्थ की सुरक्षा सुनिश्चित होती है.

Self-Employed and Entrepreneurs

स्व-व्यवसायी और उद्यमी

हेल्थ इंश्योरेंस प्लान स्व-व्यवसायी लोगों के लिए सुरक्षा नेट प्रदान करते हैं. इससे वे समय पर हेल्थकेयर सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं और मेडिकल खर्चों का उनके बिज़नेस पर प्रभाव कम हो जाता है.

Health Insurance for Senior Citizens

वरिष्ठ नागरिक

उम्र बढ़ने के साथ हेल्थ से जुड़ी समस्याओं की संभावना बढ़ जाती है. बुजुर्गों के लिए हेल्थ इंश्योरेंस पहले से मौजूद बीमारियों, हॉस्पिटलाइज़ेशन और गंभीर बीमारियों सहित बुजुर्ग लोगों के लिए कॉम्प्रिहेंसिव कवरेज प्रदान करता है.

Employees

कर्मचारी

हालांकि संगठन हेल्थ कवरेज प्रदान करते हैं, लेकिन आपको इसके साथ ही पर्सनल हेल्थ इंश्योरेंस प्लान भी लेने की सलाह दी जाती है, ताकि पर्याप्त रूप से इंश्योर्ड रहा जा सके और नौकरी बदलने के दौरान भी लगातार कवरेज जारी रहे.

Individuals Planning for Parenthood

वे व्यक्ति जो बच्चा प्लान कर रहे हैं

परिवार शुरू करना चाहने वाले व्यक्तियों के लिए मैटरनिटी कवरेज एक महत्वपूर्ण पहलू है. मैटरनिटी बेनिफिट के साथ आने वाला हेल्थ इंश्योरेंस प्लान प्रसव से पहले और बाद के खर्चों के लिए कवरेज प्रदान करता है.

मेडिकल के बढ़ते खर्चों और जीवन की अनिश्चितताओं को ध्यान में रखते हुए, फाइनेंशियल सुरक्षा और मन की शांति के लिए हेल्थ इंश्योरेंस प्लान में इन्वेस्ट करना सभी आयु वर्ग के लोगों के लिए समझदारी भरा निर्णय है.

आपके हेल्थ इंश्योरेंस प्रीमियम को प्रभावित करने वाले कारक

भारत में हेल्थ इंश्योरेंस खरीदते समय, आपके हेल्थ इंश्योरेंस प्रीमियम को प्रभावित करने वाले कारकों पर विचार करना आवश्यक है. इन कारकों में शामिल हैं:

  • आयु: युवा व्यक्तियों में बीमारियों और मेडिकल स्थितियों का जोखिम कम होने के कारण उनसे बुजुर्गों के मुकाबले कम प्रीमियम लिया जाता है.
  • मेडिकल हिस्ट्री: पहले से मौजूद मेडिकल स्थिति वाले व्यक्तियों को मेडिकल खर्चों के अधिक जोखिम के कारण अधिक प्रीमियम का भुगतान करना पड़ सकता है.
  • लाइफस्टाइल से जुड़ी आदतें: धूम्रपान करने वाले, अस्वस्थ लाइफस्टाइल आदतों वाले, और व्यावसायिक खतरों का सामना करने वाले लोगों को अधिक प्रीमियम का भुगतान करना पड़ सकता है, क्योंकि उनमें स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं विकसित होने का खतरा अधिक होता है.
  • कवरेज: सम इंश्योर्ड और आपके द्वारा चुनी गई कवरेज की सीमा आपके प्रीमियम को प्रभावित कर सकती है. अधिक कवरेज राशि के परिणामस्वरूप प्रीमियम लागत अधिक होती है.
  • भौगोलिक स्थान: हेल्थकेयर सुविधाओं की लागत शहर या क्षेत्र के आधार पर अलग-अलग हो सकती है. उच्च मेडिकल खर्चों वाले शहरी क्षेत्रों में रहने से प्रीमियम बढ़ सकता है.
  • ऐड-ऑन राइडर: अतिरिक्त राइडर, जैसे मैटरनिटी बेनिफिट, क्रिटिकल इलनेस कवरेज या रूम रेंट वेवर, देय प्रीमियम को बढ़ाते हैं.

भारत में हेल्थ इंश्योरेंस की लागत और कवरेज क्या है?

हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदते समय, आप लागत के लिए प्रदान किए गए लाभों के तहत कवरेज के लिए लागत का विश्लेषण करना चाहेंगे. विभिन्न प्लान विविध आवश्यकताओं की पूर्ति करेंगे. प्रीमियम लागत और कवरेज आयु, हेल्थ की स्थिति, चुने गए कवरेज विकल्प और सम इंश्योर्ड जैसे कारकों पर निर्भर करते हैं.

इन कारकों का मूल्यांकन करके, आप एक ऐसा हेल्थ इंश्योरेंस प्लान चुन सकते हैं जो किफायत और कवरेज के बीच सही बैलेंस बनाए. 

हेल्थ इंश्योरेंस में इनक्लूज़न और एक्सक्लूज़न

भारत में सर्वश्रेष्ठ हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी विभिन्न प्रकार के कवरेज विकल्पों के साथ आती है, और जबकि प्रत्येक इंश्योरर का ऑफर विशिष्ट हो सकता है, वहीं कुछ सामान्य एक्सक्लूज़न सबमें होते हैं, जिनके बारे में आपको जानकारी होनी चाहिए. भारत में कुछ सर्वश्रेष्ठ हेल्थ पॉलिसी द्वारा क्या कवर नहीं किया जा सकता है इसका ब्रेकडाउन यहां दिया गया है:

क्या हेल्थ इंश्योरेंस प्लान कोविड-19 क्लेम को कवर करते हैं?

निम्नलिखित शर्तों के अधीन, कोविड-19 क्लेम हेल्थ इंश्योरेंस के तहत कवर किए जाते हैं:

1. हॉस्पिटलाइज़ेशन के समय मरीज के पास मान्य और चालू हेल्थ इंश्योरेंस है.

2. ICMR द्वारा अनुमत हॉस्पिटल या सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त हॉस्पिटल में न्यूनतम 24-घंटे का हॉस्पिटलाइज़ेशन.

ध्यान दें: अन्य पॉलिसी-विशिष्ट शर्तें मौजूद हो सकती हैं और ये शर्तें व्यक्तिपरक होती हैं. इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को यह जानने के लिए अपनी पॉलिसी के नियम और शर्तें अच्छी तरह से चेक करनी चाहिए कि कोविड-19 क्लेम कवर किए जाते हैं या नहीं. 

हेल्थ इंश्योरेंस प्लान के लिए पात्रता मापदंड क्या हैं?


एच डी एफ सी लाइफ से हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी लेने के लिए, न्यूनतम आयु पात्रता आमतौर पर 18 वर्ष है, जबकि चुने गए प्लान के आधार पर अधिकतम आयु पात्रता अलग-अलग हो सकती है. पहले से मौजूद बीमारियों पर विचार किया जा सकता है, लेकिन उनके लिए कवरेज प्रतीक्षा अवधि के अधीन हो सकता है.

पात्रता मापदंड

विशेषता

आयु (वयस्क)

18-65 वर्ष

आयु (बच्चे)

90 दिन – 25 वर्ष

प्री-मेडिकल स्क्रीनिंग

इंश्योरर के अनुसार

पहले से मौजूद बीमारी

कम से कम 2 वर्षों की प्रतीक्षा अवधि, इंश्योरर पर निर्भर

आपको कम उम्र में हेल्थ इंश्योरेंस प्लान क्यों खरीदना चाहिए?

जैसे ही आपकी उम्र 18 वर्ष हो जाती है, आपको हेल्थ इंश्योरेंस प्लान खरीदने पर विचार करना चाहिए.

  • कम प्रीमियम: कम आयु में हेल्थ इंश्योरेंस प्लान खरीदने से आपको कम प्रीमियम प्राप्त करने में मदद मिलती है. युवा व्यक्तियों को आमतौर पर कम स्वास्थ्य समस्याएं होती हैं और इंश्योरेंस प्रदाता उन्हें कम जोखिम वाला मानते हैं, जिसके का प्रीमियम की लागत कम होती है.
  • कॉम्प्रिहेंसिव कवरेज: जल्दी हेल्थ इंश्योरेंस खरीदने से यह सुनिश्चित होता है कि आपके पास कॉम्प्रिहेंसिव कवरेज प्लान हो. यह आपको अप्रत्याशित मेडिकल खर्चों, हॉस्पिटलाइज़ेशन के खर्चों, सर्जरी के खर्चों और गंभीर बीमारियों से सुरक्षित रखता है.
  • फाइनेंशियल तैयारी: जीवन अनिश्चितताओं से भरा है, और हेल्थ से संबंधित एमरजेंसी स्थितियां किसी भी आयु में आ सकती हैं. हेल्थ इंश्योरेंस को जल्दी खरीदकर, आप अप्रत्याशित मेडिकल खर्चों को संभालने और अपनी बचत को सुरक्षित करने के लिए फाइनेंशियल रूप से खुद को तैयार कर सकते हैं.
  • कवरेज की निरंतरता: आयु के साथ, हेल्थ से संबंधित समस्याएं होने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं. जल्द हेल्थ इंश्योरेंस का विकल्प चुनकर, आप कवरेज की निरंतरता सुनिश्चित कर सकते हैं, भले ही आप बाद में हेल्थ संबंधी समस्याएं हो जाएं.
  • पहले से मौजूद बीमारियों के लिए प्रतीक्षा अवधि: हेल्थ इंश्योरेंस प्लान में आमतौर पर पहले से मौजूद बीमारियों के लिए प्रतीक्षा अवधि होती है. जल्द पॉलिसी खरीदकर, आप प्रतीक्षा अवधि पूरी कर सकते हैं और भविष्य में किसी भी मौजूदा हेल्थ स्थिति के लिए कवरेज का लाभ उठा सकते हैं.

हेल्थ इंश्योरेंस एक महत्वपूर्ण इन्वेस्टमेंट है जो मन की शांति प्रदान करता है और आपकी फाइनेंशियल हेल्थ की सुरक्षा करता है. 18 के होते ही हेल्थ प्लान खरीदने पर, आप कम्प्रीहेंसिव कवरेज, कम प्रीमियम और अप्रत्याशित मेडिकल खर्चों से सुरक्षा प्राप्त करते हैं. 

Why do you need Health Insurance Why do you need Health Insurance

भारत में हेल्थ इंश्योरेंस प्लान खरीदने के लिए कौन से डॉक्यूमेंट की आवश्यकता होती है?

हेल्थ इंश्योरेंस प्लान खरीदने के लिए, आपको नियामक आवश्यकताओं के अनुसार आयु के प्रमाण, पहचान के प्रमाण, पते के प्रमाण और अन्य KYC डॉक्यूमेंट जैसे डॉक्यूमेंट प्रदान करने होंगे. आपके द्वारा चुने गए प्लान और परिस्थितियों के आधार पर विशिष्ट डॉक्यूमेंट अलग-अलग हो सकते हैं. 

अधिकांश इंश्योरर द्वारा आवश्यक कुछ डॉक्यूमेंट यहां दिए गए हैं:

  • आयु का प्रमाण: जन्म प्रमाणपत्र, वोटर ID कार्ड, PAN कार्ड या आधार कार्ड
  • पहचान का प्रमाण: वोटर ID कार्ड, आधार कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस या PAN कार्ड
  • एड्रेस प्रूफ/पते का प्रमाण: आधार कार्ड, वोटर ID कार्ड, राशन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस या यूटिलिटी बिल (टेलीफोन, पानी या बिजली के बिल)
  • पासपोर्ट साइज की फोटो
  • मेडिकल रिपोर्ट: प्री-मेडिकल चेकअप के लिए

2024 में सर्वश्रेष्ठ हेल्थ इंश्योरेंस प्लान कैसे चुनें?

आपके लिए आवश्यक पॉलिसी के प्रकार, कवरेज और प्रीमियम, आयु सीमा, नेटवर्क हॉस्पिटल्स, को-पे राशि, प्रतीक्षा अवधि और सभी ऐड-ऑन सुविधाओं जैसे सभी महत्वपूर्ण कारकों पर विचार करके आप 2024 में अपने लिए सर्वश्रेष्ठ हेल्थ इंश्योरेंस प्लान चुन सकते हैं.

विचार करने लायक अन्य महत्वपूर्ण कारकों में इंश्योरर का क्लेम सेटलमेंट रेशियो, नेटवर्क हॉस्पिटल्स की लिस्ट, प्रतिष्ठा और कस्टमर सर्विस शामिल है. इन कारकों के आधार पर, आप अपनी पर्सनल और परिवार की ज़रूरतों के लिए सर्वश्रेष्ठ विकल्प चुन सकते हैं. 

आपको हेल्थ इंश्योरेंस प्लान की ऑनलाइन तुलना क्यों करनी चाहिए?

एक सूचित निर्णय लेने के लिए, हेल्थ इंश्योरेंस प्लान की ऑनलाइन तुलना करना आवश्यक है. हेल्थ इंश्योरेंस प्लान की ऑनलाइन तुलना क्यों करनी चाहिए, इसके कुछ कारण हैं:

Flexibility with Annuity Plans

सुविधा

हेल्थ इंश्योरेंस प्लान की ऑनलाइन तुलना करने से आप विभिन्न इंश्योरेंस प्रदाताओं की विभिन्न पॉलिसी का लागत/लाभ विश्लेषण कर सकते हैं. आप घर बैठे कवरेज, लाभ, प्रीमियम और अन्य पॉलिसी विवरण देख सकते हैं.

Wide Range of Options

विकल्पों की विस्तृत रेंज

ऑनलाइन प्लेटफॉर्म विभिन्न इंश्योरर से हेल्थ इंश्योरेंस विकल्पों की विस्तृत रेंज प्रदान करते हैं. आप एक से अधिक प्लान की तुलना कर सकते हैं और अपनी आवश्यकताओं के अनुसार सबसे अच्छा प्लान चुन सकते हैं.

Category of Annuity plans in India

प्रभावी

ऑनलाइन तुलना प्लेटफार्म अक्सर विशेष डील्स और छूट प्रदान करते हैं. हेल्थ इंश्योरेंस प्लान की ऑनलाइन तुलना करके, आप कॉम्प्रिहेंसिव कवरेज प्रदान करने वाले लागत-प्रभावी विकल्प खोज सकते हैं.

Review and compare

रियल-टाइम कोटेशन

ऑनलाइन तुलना प्लेटफॉर्म रियल टाइम में कोटेशन प्रदान करते हैं, जिससे आपको विभिन्न हेल्थ इंश्योरेंस प्लान के लिए प्रीमियम राशि तुरंत देखने की सुविधा मिलती है. इससे आप तुरंत तुलना करके निर्णय ले सकते हैं.

Determine investment horizon

पारदर्शी जानकारी

ऑनलाइन प्लेटफॉर्म प्रत्येक हेल्थ इंश्योरेंस प्लान के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान करते हैं, जिसमें कवरेज, लाभ, एक्सक्लूज़न और पॉलिसी के नियम और शर्तें शामिल हैं. यह पारदर्शिता आपको सूचित निर्णय लेकर विकल्प चुनने में मदद करती है.

हेल्थ इंश्योरेंस प्रीमियम की गणना कैसे करें?

हेल्थ इंश्योरेंस प्रीमियम की गणना कई कारकों पर आधारित है, जिनमें शामिल हैं:

  • आयु: आमतौर पर आयु के साथ प्रीमियम बढ़ता है, क्योंकि आयु बढ़ने के साथ ही मेडिकल कंडीशन और जटिलताओं का जोखिम भी बढ़ता जाता है.
  • सम इंश्योर्ड: अधिक सम इंश्योर्ड के कारण प्रीमियम अधिक होता है.
  • मेडिकल हिस्ट्री: इंश्योर्ड व्यक्ति की मौजूदा मेडिकल स्थितियां और मेडिकल हिस्ट्री प्रीमियम राशि को प्रभावित कर सकती है.
  • लाइफस्टाइल से जुड़ी आदतें: धूम्रपान करने, शराब पीने और शारीरिक गतिविधि की कमी जैसी कुछ लाइफस्टाइल से जुड़ी आदतों के कारण प्रीमियम अधिक हो सकता है.
  • पॉलिसी का प्रकार: हेल्थ इंश्योरेंस प्लान का प्रकार और चुने गए कवरेज विकल्प भी प्रीमियम राशि को प्रभावित कर सकते हैं.
  • फैमिली कवरेज: अगर आप परिवार के कई सदस्यों को कवर करने वाला फैमिली हेल्थ इंश्योरेंस प्लान चुनते हैं, तो प्रीमियम अधिक होगा.

हेल्थ इंश्योरेंस प्लान, कैंसर इंश्योरेंस और क्रिटिकल इलनेस इंश्योरेंस में क्या अंतर है?

हेल्थ इंश्योरेंस प्लान, कैंसर इंश्योरेंस और क्रिटिकल इलनेस इंश्योरेंस मेडिकल खर्चों के लिए कवरेज प्रदान करते हैं, लेकिन इनमें कुछ प्रमुख अंतर हैं:

Health Insurance Plans

स्वास्थ्य बीमा योजना

हेल्थ इंश्योरेंस प्लान हॉस्पिटलाइज़ेशन की लागत, डॉक्टर की फीस, दवाओं और सर्जरी के खर्च सहित विभिन्न प्रकार के मेडिकल खर्चों को कवर करता है. यह सम इंश्योर्ड नामक लिमिट तक विभिन्न बीमारियों और मेडिकल एमरजेंसी के लिए फाइनेंशियल कवरेज प्रदान करता है.

Cancer Insurance Plans

कैंसर बीमा

कैंसर इंश्योरेंस एक विशिष्ट प्रकार का इंश्योरेंस है जो कैंसर से संबंधित इलाज और खर्चों के लिए कवरेज प्रदान करने पर ध्यान केंद्रित करता है. यह कैंसर के डायग्नोसिस पर एकमुश्त भुगतान प्रदान करता है, जिसका उपयोग मेडिकल ट्रीटमेंट, सपोर्टिव केयर और अन्य आवश्यकताओं के लिए किया जा सकता है.

Critical Illness Insurance Plans

क्रिटिकल इलनेस इंश्योरेंस

क्रिटिकल इलनेस इंश्योरेंस हृदय रोग, स्ट्रोक, ऑर्गन फेलियर और बड़ी सर्जरी जैसी जानलेवा बीमारियों को कवर करता है. यह कवर की गई गंभीर बीमारी के डायग्नोसिस पर एकमुश्त राशि प्रदान करता है, जिसका उपयोग मेडिकल ट्रीटमेंट, रिकवरी और फाइनेंशियल दायित्वों के लिए किया जा सकता है.

जहां हेल्थ इंश्योरेंस प्लान विभिन्न प्रकार के मेडिकल खर्चों के लिए व्यापक कवरेज प्रदान करते हैं, वहीं कैंसर इंश्योरेंस और क्रिटिकल इलनेस इंश्योरेंस विशिष्ट बीमारियों के लिए विशेष कवरेज प्रदान करते हैं. हालांकि, वे आमतौर पर उच्च सम इंश्योर्ड प्रदान करते हैं.

हेल्थ इंश्योरेंस के साथ मेडिकल एमरजेंसी से सुरक्षा सुनिश्चित करें

हेल्थ इंश्योरेंस मेडिकल एमरजेंसी से महत्वपूर्ण सुरक्षा प्रदान करता है, जिससे फाइनेंशियल सुरक्षा और मन की शांति सुनिश्चित होती है. बढ़ते हेल्थकेयर खर्चों को देखते हुए, कॉम्प्रिहेंसिव हेल्थ इंश्योरेंस प्लान लेना ज़रूरी है.

एच डी एफ सी लाइफ कई प्रकार के हेल्थ इंश्योरेंस प्लान प्रदान करता है जो व्यापक कवरेज और लाभ ऑफर करते हैं, जिससे व्यक्तियों और परिवारों को फाइनेंशियल बोझ की चिंता किए बिना क्वालिटी हेल्थकेयर एक्सेस करने में मदद मिलती है.

 

हेल्थ इंश्योरेंस के बारे में भ्रम

हेल्थ इंश्योरेंस से जुड़े कई मिथक हैं, जिनका समाधान करना ज़रूरी है:

1 मिथक#1 हेल्थ इंश्योरेंस केवल बुजुर्गों के लिए है.

सत्य: सभी आयु वर्ग के व्यक्तियों के लिए हेल्थ इंश्योरेंस लाभदायक है. यह मेडिकल एमरजेंसी होने पर फाइनेंशियल सुरक्षा प्रदान करता है और क्वालिटी हेल्थकेयर तक एक्सेस सुनिश्चित करता है.

2 मिथक#2: हेल्थ इंश्योरेंस सभी मेडिकल खर्चों को कवर करता है.

सत्य: हालांकि हेल्थ इंश्योरेंस मेडिकल खर्चों की विस्तृत रेंज को कवर करता है, लेकिन कुछ एक्सक्लूज़न और लिमिटेशन होते हैं. कवरेज विवरण जानने के लिए पॉलिसी के नियम और शर्तों को पढ़ना और समझना आवश्यक है.

3 मिथक#3: हेल्थ इंश्योरेंस महंगा होता है.

सत्य: हेल्थ इंश्योरेंस प्रीमियम आयु, सम इंश्योर्ड और चुने गए कवरेज विकल्पों जैसे कारकों के आधार पर अलग-अलग होते हैं. सावधानीपूर्वक तुलना और चयन करके आप किफायती हेल्थ इंश्योरेंस प्लान खोज सकते हैं.

4 मिथक#4: हेल्थ इंश्योरेंस खरीदने का मतलब है अनावश्यक खर्च करना.

सत्य: हेल्थ इंश्योरेंस मेडिकल एमरजेंसी के दौरान फाइनेंशियल सुरक्षा प्रदान करता है. यह आपको भारी खर्चों के भुगतान से बचाता है और क्वालिटी हेल्थकेयर तक पहुंच सुनिश्चित करता है.

5 मिथक#5: अगर मैं युवा और स्वस्थ हूं, तो हेल्थ इंश्योरेंस की ज़रूरत नहीं है.

सत्य: मेडिकल एमरजेंसी किसी भी आयु में किसी भी हेल्थ कंडीशन वाले व्यक्ति को हो सकती है. हेल्थ इंश्योरेंस होना अप्रत्याशित मेडिकल घटनाओं से फाइनेंशियल सुरक्षा और मन की शांति प्रदान करता है.

 

हेल्थ इंश्योरेंस के बारे में FAQ

1 भारत में सबसे बेहतर हेल्थ इंश्योरेंस कौन सा है?

भारत में सर्वश्रेष्ठ हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी व्यक्तिगत आवश्यकताओं, कवरेज की आवश्यकताओं और बजट पर निर्भर करती है. हमारी यही सलाह है कि विभिन्न हेल्थ इंश्योरेंस प्लान की तुलना करें और अपनी ज़रूरतों के अनुसार सबसे अच्छा प्लान चुनें.

2 हेल्थ इंश्योरेंस कैसे खरीदा जा सकता है?

हेल्थ इंश्योरेंस सीधे इंश्योरेंस कंपनियों या इंश्योरेंस एजेंटों के माध्यम से खरीदा जा सकता है.

3 हेल्थ इंश्योरेंस प्लान कैसे चुनें?

कवरेज, लाभ, प्रीमियम भरने की सक्षमता, नेटवर्क हॉस्पिटल और पॉलिसी के नियम और शर्तों जैसे कारकों के आधार पर हेल्थ इंश्योरेंस प्लान चुनें.

4 हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के तहत कौन सी बीमारियां कवर की जाती हैं?

हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के तहत कवर की जाने वाली बीमारियां, प्लान और इंश्योरेंस प्रोवाइडर के अनुसार भिन्न हो सकती हैं. सामान्‍य रूप से कवर की जाने वाली बीमारियों में कैंसर, हृदय रोग, किडनी से संबंधित बीमारियां और अन्य शामिल हैं.

5 किस हेल्थ इंश्योरेंस प्लान में कैंसर को कवर किया जाता है?

कैंसर इंश्योरेंस प्लान, कीमोथेरेपी, सर्जरी और सपोर्टिव केयर सहित कैंसर से संबंधित उपचारों के लिए विशिष्ट कवरेज प्रदान करते हैं.

6 हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी का उपयोग कितनी जल्दी किया जा सकता ?

विभिन्‍न हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के लिए वेटिंग पीरियड अलग-अलग होता है. कवरेज कब से शुरू होगी, यह जानने के लिए पॉलिसी के नियम और शर्तें पढ़ें.

7 क्या सामान्य हेल्थ इंश्योरेंस प्लान क्रिटिकल इलनेस यानी गंभीर बीमारियों को कवर करते हैं?

हो सकता है कि सामान्य हेल्थ इंश्योरेंस प्‍लान गंभीर बीमारियों को कवर नहीं करें. लेकिन, क्रिटिकल इलनेस इंश्योरेंस पॉलिसी और राइडर जानलेवा बीमारियों के लिए कवरेज प्रदान करते हैं.

8 क्रिटिकल इलनेस पॉलिसी लेना बेहतर है या हेल्थ इंश्योरेंस प्लान?

क्रिटिकल इलनेस इंश्योरेंस और रेगुलर हेल्थ इंश्योरेंस प्लान अलग-अलग उद्देश्यों को पूरा करते हैं. दोनों एक साथ मिलकर कॉम्प्रि‍हेंसिव कवरेज प्रदान करते हैं.

9 किसी व्यक्ति के हेल्थ इंश्योरेंस की लागत कितनी होती है?

हेल्थ इंश्योरेंस की लागत, व्यक्ति की आयु, सम इंश्योर्ड, कवरेज, पॉलिसी की शर्तें आदि जैसे कारकों पर निर्भर करती है.

10 हेल्थ इंश्योरेंस प्लान खरीदने के लिए किन डॉक्यूमेंट की आवश्यकता होती है?

हेल्थ इंश्योरेंस प्लान खरीदने के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट में आइडेंटिटी प्रूफ, एड्रेस प्रूफ, आयु का प्रमाण और इंश्योरर की आवश्यकताओं के अनुसार कुछ अतिरिक्त डॉक्यूमेंट शामिल हैं.

11 हेल्थ इंश्योरेंस की लागत का अनुमान कैसे लगाया जा सकता है?

विभिन्न इंश्योरेंस प्रदाताओं द्वारा प्रदान किए जाने वाले प्रीमियम, कवरेज और लाभों की तुलना करके हेल्थ इंश्योरेंस की लागत का अनुमान लगाया जा सकता है.

12 हेल्थ इंश्योरेंस प्लान खरीदने का सही समय कौन सा होता है?

कम प्रीमियम का लाभ उठाने और जल्दी कवरेज सुनिश्चित करने के लिए कम उम्र में हेल्थ इंश्योरेंस खरीदने की सलाह दी जाती है.

13 हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी की अधिकतम और न्यूनतम अवधि क्या है?

हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी की अधिकतम और न्यूनतम अवधि इंश्योरेंस प्रोवाइडर और पॉलिसी के प्रकारों के अनुसार अलग-अलग होती है. विशेष विवरण के लिए इंश्योरर से जानकारी लेना सबसे अच्छा होता है.

HDFC life
HDFC life

HDFC लाइफ

जीवन बीमा एक्सपर्ट द्वारा रिव्यू किया गया

एच डी एफ सी लाइफ एक भरोसेमंद जीवन बीमा पार्टनर है

हम एच डी एफ सी लाइफ में आपको ऐसे इनोवेटिव प्रोडक्ट और सर्विसेज़ ऑफर करने के लिए प्रतिबद्ध हैं, जिनकी मदद से आपको 'सिर उठा के जीने' का आनंद मिलता है . हम दो दशकों से भी अधिक समय से लाइफ इंश्योरेंस सॉल्यूशन दे रहे हैं जैसे - सुरक्षा, पेंशन, सेविंग्स, इन्वेस्टमेंट, एन्युटी और हेल्थ.

 

1. 35 वर्ष की आयु वाले पुरुष के लिए वार्षिक प्रीमियम की राशि ₹ 1869, बेस बेनिफिट, 10 वर्ष की अवधि, रेग्युलर पे ऑप्शन, सम अश्योर्ड=10 लाख, लागू टैक्स और लेवी को छोड़कर.

2. लागू सम इंश्योर्ड के समाप्त होने तक स्वास्थ्य से जुड़ी एक ही या अलग-अलग समस्या / प्रोसीज़र के लिए एक से अधिक क्लेम किए जा सकते हैं.

3. 35 वर्ष की आयु वाले पुरुष के लिए वार्षिक प्रीमियम की राशि ₹ 1411, 10 वर्ष की अवधि, सिल्वर ऑप्शन, लागू टैक्स और लेवी को छोड़कर.

4. मासिक इनकम वाला ऑप्शन केवल प्लेटिनम प्लान ऑप्शन में उपलब्ध है.

5. पॉलिसी को शॉर्ट मेडिकल प्रश्नावली के आधार पर जारी किया जाता है.

6. इनकम टैक्स एक्ट, 1961 के अनुसार. टैक्स लाभ, टैक्स कानूनों में बदलाव के अधीन हैं.

7. कोविड-19 हेल्थ कवर के तहत उपलब्ध ऑप्शन.

8. 25 वर्ष की आयु के लिए प्रीमियम की दरें, पुरुष, धूम्रपान नहीं करने वाला, वार्षिक मोड, रेग्युलर पे, टैक्स को छोड़कर. प्रोटेक्शन - लाइफ ऑप्शन - ₹ 5,959 (राउंडेड अप), सम अश्योर्ड - ₹ 1 करोड़. पॉलिसी की अवधि - 30 वर्ष. हेल्थ - इंडिविजुअल ऑप्शन - ₹ 487, सम अश्योर्ड - ₹ 1 लाख, पॉलिसी की अवधि - 3.5 महीने. कुल वार्षिक प्रीमियम = ₹ 6,446, दैनिक प्रीमियम (6,446/365 = 18 (राउंडेड अप)).

9. नियम और शर्तों के अनुसार, किसी सरकारी अधिकृत डायग्नोस्टिक सेंटर में कोविड-19 के लिए पॉजिटिव डायग्नोसिस होने पर.

ARN: MC/02/24/8522