• वेबपेज
  • डॉक्यूमेंट
  • एच डी एफ सी लाइफ क्लासिकएश्योर प्लसइन्वेस्टमेंट
  • एच डी एफ सी लाइफ क्लासिकएश्योर प्लसइन्वेस्टमेंट
  • एच डी एफ सी लाइफ क्लासिकएश्योर प्लसइन्वेस्टमेंट

NRI कस्टमर्स के लिए

(पॉलिसी खरीदने के लिए)

(अगर आप हमारे मौजूदा कस्टमर हैं)
  • Contact Image

    कॉल (सोम-शनि, 10am-9pm IST, लोकल कॉल शुल्क लागू)

    +91-8916694100

  • Contact Image

    ईमेल आईडी

    [email protected]

ऑनलाइन पॉलिसी खरीदने के लिए

(नए और जारी एप्लीकेशन)

ब्रांच खोजें

मौजूदा कस्टमर के लिए

(जारी की गई पॉलिसी)

फंड परफॉर्मेंस चेक करें

टर्म इंश्योरेंस कैलकुलेटर

एच डी एफ सी लाइफ प्लान प्रीमियम कैलकुलेटर के साथ अपने टर्म इंश्योरेंस प्रीमियम की ऑनलाइन गणना करें. यह आपके परिवार को फाइनेंशियल रूप से सुरक्षित करने की दिशा में यह पहला कदम है.

तेज़ी से दौड़ती-भागती इस दुनिया में आपके जीवन में किसी अप्रत्याशित घटना के होने बहुत अधिक संभावना होती है. इनसे व्यक्तिगत नुकसान और फाइनेंशियल नुकसान, दोनों होने की संभावना रहती है. यही कारण है कि प्रियजनों की मृत्यु होने पर, खासतौर पर परिवार के एकमात्र कमाने वाले सदस्य की मृत्यु होने की स्थिति में, हमें अपने परिवार को सुरक्षा कवच प्रदान करने की आवश्यकता होती है. टर्म इंश्योरेंस प्लान, ऐसा सुरक्षा कवच है, जो इंश्योर्ड व्यक्ति की मृत्यु होने पर नॉमिनी को भुगतान की गारंटी देता है.

 

टर्म इंश्योरेंस कैलकुलेटर क्या है?


टर्म इंश्योरेंस कैलकुलेटर एक ऑनलाइन टूल है, जो आपके लाइफ कवर, आयु, लिंग और स्वास्थ्य की स्थितियों के आधार पर आपके टर्म इंश्योरेंस प्रीमियम की गणना करता है.

सही टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी चुनना महत्वपूर्ण है. टर्म इंश्योरेंस प्लान का लाभ प्राप्त करने के लिए, आपको एक निर्धारित अवधि तक कुछ प्रीमियम का भुगतान करना होगा. टर्म इंश्योरेंस कैलकुलेटर की मदद से, पॉलिसीधारक टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी के लाभ प्राप्त करने के लिए भुगतान की जाने वाली अनुमानित प्रीमियम राशि की गणना कर सकता है

इसके अलावा, टर्म इंश्योरेंस कैलकुलेटर के साथ, आप कई पॉलिसीज़ की आपस में तुलना कर सकते हैं और अपने परिवार की आवश्यकताओं के अनुसार सबसे उपयुक्त प्लान चुन सकते हैं.

इंस्टेंट प्रीमियम कैलकुलेटर54,600/- तक टैक्स बचाएं

सभी फील्ड आवश्यक हैं

NRI

नहीं हां

लिंग

पुरुष महिला

धूम्रपान करने वाला/वाली

नहीं हां

जन्मतिथि

आपकी आयु वर्ष है
प्रोडक्ट के लिए मान्य आयु सीमा 18 से 65 तक है
कृपया देश का मान्य कोड दर्ज करें कृपया मान्य मोबाइल नंबर दर्ज करें

आपसे संपर्क करने के लिए, कृपया हमें अधिकृत करें

टर्म इंश्योरेंस कैलकुलेटर का उपयोग कैसे करें?

1

टर्म इंश्योरेंस कैलकुलेटर यूज़र को कुछ विवरण दर्ज करने के लिए कहता है जिसके बाद वह बीमा कवरेज के लिए आवश्यक प्रीमियम की अनुमानित राशि बताता है. आपको अपनी वार्षिक इनकम, आप कितने वर्ष तक काम करेंगे उसका अनुमान, अनुमानित व्यक्तिगत खर्च और इनकम में अनुमानित वार्षिक वृद्धि प्रदान करने के लिए कहा जाता है.

2

यूज़र की आयु, लिंग, जन्मतिथि, टर्म इंश्योरेंस के प्रकार, पॉलिसी की अवधि और अनुमानित राशि का भी ध्यान रखा जाता है. इसके अलावा, यूज़र की लाइफस्टाइल और वह धूम्रपान करता है या नहीं, आदि जैसे कुछ अतिरिक्त कारकों को भी ध्यान में रखा जाता है. 

टर्म प्लान कैलकुलेटर आपके लिए क्या करता है?


टर्म प्लान कैलकुलेटर आपको यह निर्धारित करने में मदद कर सकता है कि आपको अपने परिवार को सुरक्षि‍त करने के लिए कितना इंश्योरेंस चा‍हिए और प्रीमियम की लागत क्या होगी. सामान्‍य रूप से, कवरेज को एमरजेंसी की स्थिति में आपके परिवार की फाइनेंशियल आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए पर्याप्त होना चाहिए. साथ ही, प्रीमियम आपके बजट में फिट होना चाहिए. कैलकुलेटर आयु, स्वास्थ्य और जीवनशैली जैसे कारकों को ध्यान में रखते हुए चुने गए कवरेज के लिए प्रीमियम राशि की जानकारी प्रदान करेगा. कैलकुलेटर निम्‍न कारकों के आधार पर टर्म प्लान के लिए प्रीमियम की गणना करते हैं:

लाइफ कवर की राशि: इंश्योरर द्वारा प्रदान की जाने वाली लाइफ कवर की राशि वह राशि है जो आपकी असामयिक मृत्यु होने की स्थिति में आपके परिवार या नॉमिनी को दी जाएगी. यह सलाह दी जाती है कि लाइफ कवर आपकी वार्षिक सेलरी का कम से कम 10-15 गुना होने चाहिए.

पॉलिसी अवधि: पॉलिसी की अवधि वह अवधि है जिसके लिए इंश्योरेंस प्लान कवरेज प्रदान करता है. बी‍मित की मृत्यु होने की स्‍थ‍ि‍ति में, लाइफ कवर राशि नॉमिनी को प्राप्त होगी.

ऐड-ऑन चुनें: अपने टर्म प्लान में राइडर जोड़ने से अतिरिक्त फाइनेंशियल सुरक्षा और अन्य लाभ मिल सकते हैं. इसके लिए अतिरिक्त प्रीमियम का भुगतान करना पड़ता है. कुल मिलाकर, टर्म इंश्योरेंस आपको और आपके परिवार को विश्वास और सुरक्षा प्रदान करता है. 

टर्म प्लान कैलकुलेटर कैसे काम करता है?

टर्म प्लान कैलकुलेटर एक ऐसा टूल है, जो आपके लिए आवश्यक लाइफ इंश्योरेंस कवरेज की राशि की गणना करने में मदद करता है. यह आपकी आयु, आय, देनदारियों और अन्य कारकों को ध्यान में रखकर काम करता है.

  • चरण 01

    सबसे पहले अपनी बुनियादी जानकारी दर्ज करें, जैसे- आयु, लिंग और आय.

  • चरण 02

    इसके बाद कैलकुलेटर में आपको अपनी मौजूदा देयताओं जैसे बकाया लोन, मॉरगेज और अन्य कर्ज़ के बारे में विवरण दर्ज करना होगा.

  • चरण 03

    आपके सभी विवरण दर्ज कर देने के बाद, कैलकुलेटर आपके डेटा का विश्लेषण करेगा और सुझाई गई टर्म प्लान कवरेज राशि बताएगा.

  • चरण 04

    कैलकुलेटर से आपको टर्म प्लान के लिए भुगतान किए जाने वाले प्रीमियम का अनुमान भी मिलेगा.

  • चरण 05

    अब आप विभिन्न टर्म प्लान के प्रीमियम और कवरेज राशि की तुलना कर सकते हैं और अपनी ज़रूरतों के अनुसार प्लान चुन सकते हैं.

  • चरण 06

    प्लान चुनने के बाद, मेडिकल जांच करवाएं और लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी शुरू करने व इसके लाभ लेने के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट जमा करें.

टर्म इंश्योरेंस कैलकुलेटर का उपयोग करने के क्या लाभ हैं

किफायती कीमत पर लाइफ इंश्योरेंस सुनिश्चित करने और सुविधा प्रदान करने के साथ-साथ टर्म इंश्योरेंस प्लान के कई अन्य लाभ भी हैं:

Multiple death benefit payout options with Term Plans

डेथ बेनिफिट के भुगतान के कई विकल्प

परिवार के एकमात्र कमाने वाले सदस्य की मृत्यु के बाद, फाइनेंशियल देयताओं का बोझ परिवार के अन्य सदस्यों पर आ जाता है. होम, कार या पर्सनल लोन से संबंधित बकाया EMI बढ़ने लगती है. इस स्थिति में एक से अधिक भुगतान (मल्टीपल पेआउट) का विकल्प उपयोगी साबित होता है.

पॉलिसीधारक की मृत्यु के बाद आश्रित व्यक्ति को एकमुश्त राशि मिल सकती है, वहीं कुछ बीमा पॉलिसी मृत्यु लाभ के रूप में एकमुश्त राशि के साथ मासिक इनकम प्राप्त करने का विकल्प प्रदान करती हैं. मासिक इनकम एक तरह से सेलरी के रूप में कार्य करती है, जिसकी मदद से रोज़मर्रा के खर्चों को मैनेज करना आसान हो जाता है.

Additional riders with Term Insurance Plans

अतिरिक्त राइडर

टर्म इंश्योरेंस प्लान आपको मामूली शुल्क पर अपनी टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी में राइडर जोड़ने का विकल्प प्रदान करते हैं. अगर जीवन में आप कुछ निश्चित बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं, तो क्रिटिकल इलनेस राइडर आपको फाइनेंशियल सुरक्षा प्रदान करेगा.

इसी प्रकार, आप दुर्घटना के कारण होने वाली मृत्यु या अंग-भंग के मामले में टर्म इंश्योरेंस का अतिरिक्त लाभ प्राप्त करने के लिए राइडर जोड़ सकते हैं. पॉलिसी की शर्तों के अनुसार लाभार्थी को सम अश्योर्ड का भुगतान किया जाता है.

 Term Insurance Plans with Tax benefits

टैक्स लाभ

टर्म इंश्योरेंस प्लान आपके द्वारा अपनी पॉलिसी के लिए भुगतान किए गए प्रीमियम के साथ ही साथ आपको मिलने वाले भुगतान पर भी टैक्स लाभ प्रदान करते हैं. इनकम टैक्स एक्ट, 19611 के सेक्शन 80C2 के तहत, आप टर्म इंश्योरेंस खरीदने के लिए अपने द्वारा चुकाए गए प्रीमियम पर वार्षिक रूप से ₹1.5 लाख तक की टैक्स छूट पा सकते हैं. आप अपनी आयु और स्वास्थ्य की स्थिति के आधार पर अधिकतम कवरेज वाला प्लान चुनकर अधिकतम टैक्स लाभ का आनंद ले सकते हैं. इसके अलावा, टर्म इंश्योरेंस प्लान के तहत मिलने वाला डेथ बेनिफिट या मृत्यु लाभ, इनकम टैक्स एक्ट 19611 के सेक्शन 10 (10D)3 के तहत पूरी तरह से टैक्स मुक्त होता है.

Term Insurance Plan with Return of Premium option

प्रीमियम विकल्प पर रिटर्न

पॉलिसीधारक के लाभार्थी को केवल तभी लाइफ कवर मिलता है जब इंश्योर्ड व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है. पॉलिसी की मेच्योरिटी पर कोई भी लाभ प्राप्त नहीं होता है. हालांकि, अगर आप रिटर्न ऑफ प्रीमियम (प्रीमियम वापसी) का विकल्प चुनते हैं, तो आप मेच्योरिटी पर लाभ प्राप्त कर सकते हैं. इसमें आपको अधिक प्रीमियम का भुगतान करना होगा, लेकिन अगर आप पॉलिसी अवधि के अंत तक जीवित रहते हैं, तो आपके सभी प्रीमियम वापस कर दिए जाएंगे. 

सर्वश्रेष्ठ टर्म इंश्योरेंस के लिए सही सम अश्योर्ड चुनना क्यों महत्वपूर्ण है.

आपके परिवार की फाइनेंशियल सुरक्षा के लिए टर्म इंश्योरेंस प्लान का सम अश्योर्ड एक महत्वपूर्ण कारक होता है. यह अप्रत्याशित घटनाओं से सुरक्षा प्रदान करता है, जिससे आपको परेशानियों से राहत मिलती है. एक पर्याप्‍त सम अश्योर्ड आपके प्रियजनों को एक स्थिर भविष्य देता है, जिसमें कर्ज़, शिक्षा और बंद हो चुकी आय की क्षतिपूर्ति शामिल है. उनके सुरक्षित भविष्‍य के लिए एक सही सम अश्योर्ड चुनना महत्वपूर्ण है. नीचे दिए गए टैब पर क्लिक करके अपने टर्म लाइफ इंश्योरेंस के लिए सबसे बेहतर सम अश्योर्ड के बारे में अधिक जानें.

टर्म इंश्योरेंस प्लान क्या है?


हम सभी चाहते हैं कि हमारी अनुपस्थिति में भी हमारे परिवार सुरक्षित रहें. टर्म इंश्योरेंस प्लान किफायती लागत पर आपके परिवार की सुरक्षा सुनिश्चित करता है. यह अनिवार्य रूप से कम प्रीमियम पर पर्याप्त लाइफ कवर प्रदान करता है. पॉलिसीधारक की मृत्यु होने पर, पॉलिसी के लाभार्थी को भुगतान दिया जाता है.

टर्म इंश्योरेंस खरीदने का उद्देश्य आपकी मृत्यु हो जाने की स्थिति में आपके परिवार की फाइनेंशियल आवश्यकताओं का ध्यान रखना है. यह एज़ूकेशन लोन, होम लोन आदि जैसी किसी भी देयता का भुगतान करने में भी मदद करता है. कुछ टर्म इंश्योरेंस प्लान गंभीर बीमारियों को भी कवर करते हैं.

टर्म प्लान कौन खरीद सकता है?


आपके परिवार के एकमात्र कमाने वाले सदस्य की असमय मृत्यु हो जाने की स्थिति में आपके परिवार के लिए पर्याप्त फाइनेंशियल सुरक्षा होना महत्वपूर्ण है. सभी लोग टर्म इंश्योरेंस प्लान खरीदने के लिए पात्र नहीं होते हैं. आपकी आयु 18 से 65 वर्ष के बीच होनी चाहिए. कुछ इंश्योरर 65 वर्ष की आयु में भी टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी प्रदान करते हैं और 99 वर्ष की आयु तक कवरेज प्रदान करते हैं. मुख्य रूप से, आप किस आयु में टर्म इंश्योरेंस प्लान खरीदना चाहते हैं, आपको यह जानना आवश्यक है.

आपके फाइनेंशियल लक्ष्य आपकी आयु के अनुसार बदल सकते हैं, साथ ही आपके परिवार में बढ़ोत्तरी हो सकती है जिसके कारण आपको अपनी पॉलिसी में कुछ बदलाव करने की आवश्यकता पड़ सकती है. अक्सर यह सलाह दी जाती है कि टर्म इंश्योरेंस प्लान कम उम्र में ही खरीद लेना चाहिए. टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी कई लाभ प्रदान करती है, इसलिए क्यों न आपकी इनकम का एक हिस्सा सुरक्षित कर लिया जाए, जो आपकी अनुपस्थिति में आपके परिवार की सुरक्षा में मदद कर सके? 

मुझे किस आयु में टर्म प्लान खरीदना चाहिए?

Age to opt for Term Plan

आप 18 से 65 वर्ष के बीच किसी भी आयु में टर्म इंश्योरेंस प्लान खरीद सकते हैं, लेकिन इसे जल्दी खरीद लेने से कई लाभ मिलते हैं. जब आपकी उम्र 20 के आस-पास होती है और आप एक हेल्दी लाइफ स्टाइल जी रहे होते हैं, तो आपके गंभीर बीमारियों से ग्रस्त होने की संभावना कम होती है. इस कारण से बीमा प्रदाता आपसे कम प्रीमियम लेता है, क्योंकि वह जानता है कि आपको जोखिम होने की संभावना कम है.

what age to opt Term Plan

इसके अलावा, टर्म इंश्योरेंस प्लान शुरुआती चरण में पॉलिसीधारक को सुविधा और आश्रितों को सुरक्षा प्रदान करते हैं. वे इनकम टैक्स एक्ट, 19611 के सेक्शन 80C2 के तहत कई टैक्स लाभ भी प्रदान करते हैं.

टर्म इंश्योरेंस कैलकुलेटर से संबंधित सामान्‍य प्रश्‍न

1 टर्म इंश्योरेंस क्या है?

टर्म इंश्योरेंस एक प्रकार का जीवन बीमा है, जो किफायती दरों पर आपके परिवार की सुरक्षा सुनिश्चित करता है. यह पॉलिसी अपेक्षाकृत कम प्रीमियम पर पर्याप्त लाइफ कवर प्रदान करती है. पॉलिसीधारक की मृत्यु होने पर पॉलिसी के लाभार्थी को भुगतान प्रदान किया जाता है. 

2 टर्म इंश्योरेंस कैलकुलेटर कैसे काम करता है?

टर्म इंश्योरेंस कैलकुलेटर में यूज़र को कुछ विवरण दर्ज करना होता है, जिनके आधार पर यह बताया जाता है कि अनुमानित बीमा कवरेज प्राप्त करने के लिए यूज़र को कितने प्रीमियम का भुगतान करना होगा. इसकी गणना करने के लिए आपकी वार्षिक इनकम, वह अवधि, जब तक आप काम करेंगे, आपके अनुमानित पर्सनल खर्च और आपकी इनकम में वार्षिक बढ़ोत्तरी जैसे कारकों को ध्यान में रखा जाता है.

यूज़र की आयु, लिंग, जन्मतिथि, टर्म इंश्योरेंस का प्रकार, पॉलिसी की अवधि और वांछित सम अश्योर्ड राशि पर भी विचार किया जाता है. इसके अलावा, कुछ अतिरिक्त कारक भी प्रीमियम को प्रभावित करते हैं जैसे आपकी लाइफस्टाइल कैसी है, आप धूम्रपान करते हैं या नहीं आदि.

3 टर्म इंश्योरेंस प्रीमियम कैलकुलेटर का उपयोग कैसे करें?

टर्म इंश्योरेंस कैलकुलेटर का इस्तेमाल करना बहुत आसान है और इसकी मदद से आप 10 मिनट से कम समय में प्रीमियम का कोटेशन प्राप्त कर सकते हैं. आपको अपनी व्यक्तिगत जानकारी जैसे जन्मतिथि, लिंग, वैवाहिक स्थिति, वार्षिक इनकम आदि डालनी होगी. आपको यह बताना ज़रूरी है कि किस निश्चित समय के बाद आपको कितना सम अश्योर्ड चाहिए और आप लाभार्थी को किस प्रकार भुगतान करना चाहते हैं: एक बार एकमुश्त, मासिक भुगतान, या दोनों.

इन चरणों को पूरा करने के बाद, आपको अपनी इनकम में होने वाली अनुमानित बढ़ोतरी डालनी होगी. बस हो गया! आपने जो जानकारी दी है, उसके हिसाब से कैलकुलेटर आपको टर्म इंश्योरेंस प्लान के ऑप्शन बताएगा. इससे आपको अपने लिए सबसे अच्छी पॉलिसी की तुलना करने और चुनने में मदद मिलेगी.

4 मुझे टर्म प्लान कब खरीदना चाहिए?

आप 18 से 65 वर्ष के बीच किसी भी आयु में टर्म इंश्योरेंस प्लान खरीद सकते हैं, लेकिन इसे जल्दी खरीद लेने से कई लाभ मिलते हैं. 20 की उम्र के दौर में, जब आप स्वस्थ होते हैं और आपको स्वास्थ्य से जुड़ी समस्या बहुत कम या न के बरबार होती है. इस समय आपके प्रीमियम के शुल्क किफायती होंगे, क्योंकि आप कम जोखिम वाली कैटेगरी में आते हैं.

इसके अलावा, शुरुआती चरण में टर्म इंश्योरेंस प्लान पॉलिसीधारक को सुविधा देते हैं और उसके आश्रितों को सुरक्षा देते हैं, साथ ही टैक्स में भी कई लाभ देते हैं.

5 आपकी आयु से आपके प्रीमियम का कैलकुलेशन कैसे प्रभावित होता है?

पॉलिसीधारक की आयु के साथ-साथ टर्म इंश्योरेंस प्रीमियम भी बढ़ता है. ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि युवा व्यक्ति के बीमार होने का जोखिम कम होता है. इसलिए, यह सलाह दी जाती है कि अधिकतम लाभ प्राप्त करने के लिए युवावस्था में टर्म इंश्योरेंस प्लान खरीदें.

6 आपके पेशा का टर्म इंश्योरेंस प्रीमियम के कैलकुलेशन पर क्यों असर पड़ता है?

हालांकि प्रीमियम की गणना करने में आपका पेशा प्रमुख कारक नहीं होता है, लेकिन फिर भी उसका असर इस बात पर पड़ सकता है कि आप कितना भुगतान करते हैं. इसका कारण आसान है: कुछ पेशे में उच्च जोखिम होते हैं. उदाहरण के लिए, डेस्क पर काम करने वाले व्यक्ति की तुलना में कंस्ट्रक्शन के क्षेत्र में काम करने वाले वर्कर को जान का जोखिम अधिक होता है. इसे ध्यान में रखते हुए अधिक प्रीमियम लिया जा सकता है. 

7 किन कारकों से आपके टर्म प्लान का प्रीमियम निर्धारित होता है?

आयु, स्वास्थ्य की स्थिति, लिंग, धूम्रपान की आदतें, पेशा, लाइफस्टाइल, चुना गया सम अश्योर्ड और प्रीमियम के भुगतान की अवधि आदि ऐसे प्रमुख कारक हैं जिनसे यह निर्धारित होता है कि आपको प्रीमियम की कितनी राशि का भुगतान करना पड़ सकता है. 

8 धूम्रपान करने वालों पर प्रीमियम के कैलकुलेशन का क्या असर पड़ता है?

धूम्रपान नहीं करने वालों की तुलना में धूम्रपान करने वाले व्यक्ति को कैंसर और हृदय के रोग जैसी बीमारियां होने का अधिक जोखिम होता है. महिलाओं की तुलना में पुरुषों को ये बीमारियां होने की संभावनाएं अधिक होती हैं. इसलिए, धूम्रपान करने वालों के लिए टर्म इंश्योरेंस का प्रीमियम अधिक होता है. यह सलाह दी जाती है कि आप इंश्योरर से पूछें कि क्या आपकी वर्तमान लाइफस्टाइल के कारण टर्म इंश्योरेंस का प्रीमियम बढ़ जाएगा.

9 इस प्लान में किस प्रकार के डेथ बेनिफिट कवर किए जाते हैं?

डेथ बेनिफिट के लिए अलग-अलग कंपनियों के अलग-अलग नियम होते हैं, इनमें से कुछ हैं, स्वास्थ्य से जुड़ी समस्या के कारण मृत्यु, स्वाभाविक मृत्यु या दुर्घटनावश मृत्यु होना आदि. दुर्घटना में होने वाली मृत्यु का कारण मोटर वाहनों की वजह से, फैक्टरी में दुर्घटना होना, छत से गिरना, डूबना, इलेक्ट्रिक शॉक लगना या भूकंप आना हो सकता है. 

10 1 करोड़ के टर्म इंश्योरेंस की प्रीमियम राशि क्या है?

भारत में 1 करोड़ के टर्म इंश्योरेंस की प्रीमियम राशि पॉलिसी लेने वाले व्यक्ति की आयु और स्वास्थ्य की स्थिति के आधार पर अलग-अलग होती है. आमतौर पर, 1 करोड़ की टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी का प्रीमियम ₹5,000 से ₹20,000 प्रति वर्ष तक होता है, जो इंश्योरर और पॉलिसी के अन्य नियम और शर्तों पर निर्भर करता है. धूम्रपान की आदतें, पहले से मौजूद बीमा‍रियां और अतिरिक्त कवरेज के लिए राइडर को शामिल करने जैसी चीजें भी प्रीमियम राशि को प्रभावित कर सकती हैं.

 

प्रीमियम की राशि पॉलिसी के प्रकार के आधार पर भी अलग-अलग होती है ; सिंगल प्रीमियम पॉलिसी, रेगुलर प्रीमियम पॉलिसी की तुलना में अधिक महंगी होती हैं. अवधि की लंबाई, अतिरिक्त राइडर और अन्य लाभ जैसे कारक भी प्रीमियम राशि को प्रभावित करते हैं.

 

फाइनेंशियल एडवाइज़र से परामर्श लेने या ऑनलाइन इंश्योरेंस प्रीमियम कैलकुलेटर का उपयोग करने से आपको अपनी व्यक्तिगत परिस्थितियों के आधार पर ₹ 1 करोड़ की टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी के लिए अनुमानित प्रीमियम रा‍शि निर्धारित करने में मदद मिल सकती है. विभिन्न इंश्योरर द्वारा प्रदान की जाने वाली विभिन्न पॉलिसी की तुलना करना भी आवश्‍यक है ताकि आपको सही प्रीमियम पर सबसे बेहतर कवरेज मिल सके.

11 हमें कितनी रा‍शि का टर्म इंश्योरेंस लेना चाहिए?

आपको कितना टर्म इंश्योरेंस लेना चाहिए वह आपकी विशिष्ट फाइनेंशियल ज़रूरतों पर निर्भर करता है. आमतौर पर, यह सलाह दी जाती है कि भारतीयों को अपनी वार्षिक आय के 10-12 गुना रा‍शि की टर्म लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदनी चाहिए. आपकी मृत्यु हो जाने की स्थिति में, यह आपके परिवार को पर्याप्त फाइनेंशियल सुरक्षा प्रदान करेगा. टर्म इंश्योरेंस की राशि तय करते समय, आपकी वर्तमान जीवनशैली, आपके कर्ज़, आपके आश्रितों और आपके फाइनेंशियल लक्ष्य जैसे कारकों पर विचार करना महत्वपूर्ण है. उदाहरण के लिए, अगर आप कामकाजी दंपत्ति हैं और आपके छोटे बच्चे हैं, तो आपको अपने परिवार की फाइनेंशियल सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए अधिक टर्म इंश्योरेंस खरीदने की आवश्यकता हो सकती है. इसके अलावा, अपनी टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी को समय-समय पर रिव्यू करना महत्वपूर्ण है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि कवरेज अभी भी आपकी ज़रूरतों को पूरा करने के लिए पर्याप्त है.

12 क्या हम टर्म इंश्योरेंस के प्रीमियम का भुगतान मासिक आधार पर कर सकते हैं?

हां, आप टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी के प्रीमियम का भुगतान मासिक आधार पर कर सकते हैं. भारत में, टर्म इंश्योरेंस प्रीमियम के मासिक भुगतान को 'मंथली इनकम प्लान' के रूप में भी जाना जाता है'. यह आपको मासिक किस्तों में प्रीमियम का भुगतान करने की अनुमति देता है और रेगुलर टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी के समान ही मृत्यु लाभ प्रदान करता है. यह विकल्प उन लोगों के लिए लाभदायक है जिनके पास टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी के वार्षिक प्रीमियम का भुगतान करने के लिए आवश्यक एकमुश्त धनराशि नहीं है. मासिक प्रीमियम भुगतान आपको अपने फाइनेंस को आसानी से मैनेज करने में भी मदद करता है, क्योंकि आपको हर महीने केवल एक छोटी राशि का भुगतान करना होता है.

13 किस उम्र में टर्म इंश्योरेंस खरीदना सबसे अच्छा है?

भारत में टर्म इंश्योरेंस खरीदने की सबसे अच्छी उम्र आमतौर पर 18 से 65 वर्ष के बीच होती है. ऐसा इसलिए है क्योंकि टर्म इंश्योरेंस प्रीमियम पॉलिसीधारक की आयु के अनुसार निर्धारित किए जाते हैं, और पॉलिसीधारक जितनी कम आयु के होते हैं, प्रीमियम उतना ही कम होता है. इसके अलावा, आप जितनी जल्दी टर्म इंश्योरेंस खरीदेंगे, उतने ही लंबे समय तक आप कवरेज का लाभ उठा पाएंगे. कम आयु में टर्म इंश्योरेंस खरीदकर, आप यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि आपकी मृत्यु या विकलांगता की स्‍थ‍िति में आप कवर रहेंगे और आपका परिवार फाइनें‍शि‍यल रूप से सुरक्षि‍त रहेगा. इसके अलावा, अगर आप कम आयु में टर्म इंश्योरेंस खरीदते हैं, तो आप भुगतान किए गए प्रीमियम पर उपलब्ध टैक्स कटौतियों का लाभ ले सकते हैं.

 

हालांकि, टर्म इंश्योरेंस लेने के लिए कभी देर नहीं होती है, और व्यक्तिगत परिस्थितियों के आधार पर कवरेज की आवश्यकता भिन्न हो सकती है. 

14 क्या टर्म इंश्योरेंस में हमें पूरी राशि मिलती है?

हां, टर्म इंश्योरेंस में, पॉलिसी अवधि के दौरान बीमित व्यक्ति की मृत्यु होने पर लाभार्थी को पूरी राशि प्रदान की जाती है. भारत में, टर्म इंश्योरेंस लाइफ इंश्योरेंस का एक प्रकार है जिसमें पॉलिसीधारक एक पूर्वनिर्धारित अवधि के लिए एक निश्चित प्रीमियम का भुगतान करता है और पॉलिसी अवधि के दौरान पॉलिसीधारक की मृत्यु होने पर इंश्‍योरर पूरे सम अश्योर्ड का भुगतान करता है. पॉलिसीधारक अतिरिक्त लाभ के लिए पॉलिसी में राइडर जोड़ने का विकल्प भी चुन सकते हैं. एक्सीडेंटल डेथ बेनिफिट, क्रिटिकल इलनेस बेनिफिट, प्रीमियम माफी आदि जैसे राइडर पॉलिसीधारक को अतिरिक्त सुरक्षा प्रदान करने में मदद कर सकते हैं. टर्म इंश्योरेंस, पॉलिसीधारक के परिवार को फाइनेंशियल सुरक्षा प्रदान करने का एक किफायती तरीका है. यह फाइनेंशियल प्‍लानिंग का भी एक महत्वपूर्ण भाग है और यह सुनिश्चित करने में मदद करता है कि किसी भी अप्रत्याशित परिस्थिति में पॉलिसीधारक के परिवार को सहायता प्रदान किया जाए.

 

लागू होने वाले किसी भी एक्सक्लूज़न या शर्तों समेत कवरेज विवरण को समझने के लिए, आपका अपनी विशिष्ट पॉलिसी के नियम और शर्तों को सावधानीपूर्वक रिव्यू करना महत्वपूर्ण है.

15 100% रिटर्न ऑफ प्रीमियम लाइफ इंश्योरेंस क्या है?

100% रिटर्न ऑफ प्रीमियम लाइफ इंश्योरेंस एक प्रकार की लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी है जो पॉलिसीधारक के पॉलिसी अवधि तक जीवित रहने पर भुगतान किए गए प्रीमियम का पूरा रिफंड प्रदान करती है. भारत में ये पॉ‍लिसी सबसे लोकप्रिय लाइफ इंश्योरेंस पॉ‍लिसी में से एक हैं. इन्हें आमतौर पर अवधि के आधार पर बेचा जाता है, अर्थात अगर पॉलिसीधारक पॉलिसी की अवधि तक जीवित रहता है तो उसे पूरा प्रीमियम वापस मिल जाएगा, लेकिन अगर पॉलिसीधारक की इस अवधि के भीतर मृत्यु हो जाती है तो पॉलिसी कोई अन्य लाभ प्रदान नहीं करेगी. ये पॉलिसी उन लोगों के लिए एक बेहतरीन विकल्प हो सकती है जो अपने परिवार को सुरक्षित रखने और अपनी मृत्यु होने पर उन्‍हें फाइनेंशियल सुरक्षा प्रदान करने का तरीका खोज रहे हैं, साथ ही, यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि अगर वे पॉलिसी की अवधि तक जीवित रहते हैं तो उन्हें अपने प्रीमियम का रिटर्न मिलेगा.

16 टर्म इंश्योरेंस की कितनी प्रीमियम राशि टैक्स-फ्री है?

भारत में, टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी के लिए भुगतान किया गया प्रीमियम इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80C के तहत टैक्स-फ्री है. इसका मतलब यह है कि टर्म इंश्योरेंस के लिए भुगतान की जाने वाली अधिकतम ₹ 1.5 लाख तक की कोई भी राशि सेक्शन 80C के तहत कटौती के लिए पात्र है. किसी भी पॉलिसीधारक द्वारा इस कटौती के लिए क्‍लेम किया जा सकता है, चाहे वे वेतनभोगी हों या स्व-व्यवसायी व्यक्ति हों. इसके अतिरिक्त, पॉलिसी अवधि के दौरान पॉलिसीधारक की मृत्यु होने पर पॉलिसीधारक के नॉमिनी को पूरे सम अश्योर्ड का भुगतान किया जाता है. इसलिए, टर्म इंश्योरेंस पॉलिसीधारक के परिवार को फाइनेंशियल सुरक्षा प्रदान करने के साथ-साथ टैक्स भी बचाते हैं.

17 20-वर्षीय टर्म इंश्योरेंस क्या है?

20-वर्षीय टर्म इंश्योरेंस एक प्रकार की लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी है जो किसी व्यक्ति को 20 वर्षों की अवधि के लिए कवर करती है, जिसमें अवधि के अंत में पॉलिसी को रिन्यू करने का विकल्प मिलता है. अगर 20 वर्ष की अवधि के दौरान पॉलिसीधारक की मृत्यु हो जाती है तो उसे इंश्‍योरर से एकमुश्त भुगतान प्राप्त होगा.

 

20-वर्ष का टर्म इंश्योरेंस भारत में तेजी से लोकप्रिय हो रहा है, क्योंकि यह पॉलिसीधारक की मृत्यु होने की स्थिति में उसके परिवार को फाइनेंशियल सुरक्षा प्रदान करता है. इस प्रकार की पॉलिसी पारंपरिक लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी की तुलना में अधिक किफायती भी है. पॉलिसीधारक अपने लिए आवश्यक कवरेज की राशि चुन सकता है, और प्रीमियम का भुगतान मासिक, त्रैमासिक या वार्षिक आधार पर किया जा सकता है. यह ध्‍यान रखें कि पॉलिसी 20-वर्ष की अवधि के अंत में समाप्त हो जाएगी और उसके बाद कोई लाभ नहीं मिलेगा.

18 क्या 50 लाख का टर्म इंश्योरेंस पर्याप्त है?

यह आपकी व्यक्तिगत आवश्यकताओं और परिस्थितियों पर निर्भर करता है. ₹ 50 लाख एक बड़ी राशि है, और यह आपके लिए पर्याप्त है या नहीं, यह आपकी जीवनशैली और आपके फाइनेंशियल लक्ष्यों पर निर्भर करेगा. अगर आप सिंगल हैं और आप पर कोई आश्रित नहीं है, और कोई बड़ा फाइनेंशियल लक्ष्य नहीं रखते हैं, तो ₹ 50 की टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी आपके लिए पर्याप्त हो सकती है. अगर आपके ऊपर परिवार की जिम्‍मेदारी है, या आपके बड़े फाइनेंशियल लक्ष्य जैसे बकाया कर्ज़, मॉरगेज भुगतान, बच्चों की शिक्षा के खर्च और अन्य रोजमर्रा के खर्च हैं, तो आपको अ‍धिक कवरेज राशि की आवश्यकता हो सकती है. अंततः, यह आपको तय करना है कि आपको अपनी व्यक्तिगत और पारिवारिक जरूरतों के लिए कितना कवरेज चाहिए. यह भी ध्यान रखें कि भारत में टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी अपेक्षाकृत सस्ती हैं, इसलिए अगर आपको अधिक कवरेज की आवश्यकता है, तो भी आप आसानी से ऐसी पॉलिसी ले सकते हैं जो आपकी ज़रूरतों को पूरा करती है और आपके फाइनेंस पर बहुत अधिक भार भी नहीं डालती.

19 50 लाख के टर्म इंश्योरेंस का प्रीमियम कितना होता है?

₹ 50 लाख के टर्म इंश्योरेंस प्लान का प्रीमियम कस्टमर की आयु, स्वास्थ्य, व्यवसाय और जीवनशैली जैसी विभिन्न बातों पर निर्भर करता है. सामान्यत:, कस्टमर जितना कम उम्र और स्वस्थ होगा, प्रीमियम उतना ही कम होगा. उदाहरण के तौर पर, एक अच्छे स्वास्थ्य वाले और धूम्रपान नहीं करने वाले 30 वर्षीय पुरुष को, एक धूम्रपान करने वाले और स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं वाले 50 वर्षीय पुरुष की तुलना में काफी कम प्रीमियम का भुगतान करना होगा. सामान्य रूप से, ₹ 50 लाख के टर्म इंश्योरेंस प्लान के लिए कस्टमर को अपने वार्षिक प्रीमियम के रूप में सम अश्योर्ड के लगभग 10-15% का भुगतान करने की उम्मीद करनी चाहिए. प्रीमियम की राशि अलग-अलग इंश्योरर के बीच अलग-अलग हो सकती है, इसलिए विभिन्न पॉलिसी की तुलना करना महत्वपूर्ण है ता‍कि अपनी ज़रूरतों के अनुरूप सबसे बेहतर पॉलिसी ढूंढी जा सके.

20 टर्म इंश्योरेंस कौन ले सकता है?

भारत में, 18 से 65 वर्ष के बीच की आयु वाले किसी भी व्यक्ति के लिए टर्म इंश्योरेंस उपलब्ध है. इंश्योरेंस पॉलिसी कम से कम 10 वर्ष और अधिकतम 40 वर्ष के लिए ली जा सकती है. उपलब्ध कवरेज की राशि इंश्योरर पर निर्भर करती है, लेकिन सामान्‍य तौर पर यह ₹ 25 लाख से ₹ 50 करोड़ तक होती है. टर्म इंश्योरेंस प्‍लान का प्रीमियम, व्यक्ति की आयु और स्वास्थ्य के आधार पर अलग-अलग होता है. आमतौर पर, कम आयु और अच्छे स्वास्थ्य वाले व्यक्ति को कम प्रीमियम देना होता है. टर्म इंश्योरेंस प्लान को इंडिविजुअल या जॉइंट पॉलिसी के रूप में लिया जा सकता है. पॉलिसीधारक पॉलिसी के लिए भुगतान किए गए प्रीमियम पर टैक्स लाभ प्राप्त कर सकते हैं. पॉलिसीधारक प्रीमियम का भुगतान वार्षिक, अर्धवार्षिक या त्रैमासिक रूप से करने का विकल्प चुन सकते हैं. अतिरिक्त सुरक्षा के लिए पॉलिसीधारक, अतिरिक्त राइडर जैसे एक्सीडेंटल डेथ राइडर, क्रिटिकल इलनेस राइडर, प्रीमियम माफी राइडर आदि का विकल्प भी चुन सकते हैं. टर्म इंश्योरेंस प्लान, असामयिक मृत्यु होने की स्थिति में पॉलिसीधारक और उसके परिवार को फाइनेंशियल सुरक्षा प्रदान करने का एक किफायती और प्रभावी तरीका है.

HDFC life
HDFC life

HDFC लाइफ

जीवन बीमा एक्सपर्ट द्वारा रिव्यू किया गया

एच डी एफ सी लाइफ एक भरोसेमंद जीवन बीमा पार्टनर है

हम एच डी एफ सी लाइफ में आपको ऐसे इनोवेटिव प्रोडक्ट और सर्विसेज़ ऑफर करने के लिए प्रतिबद्ध हैं, जिनकी मदद से आपको 'सिर उठा के जीने' का आनंद मिलता है . हम दो दशकों से भी अधिक समय से लाइफ इंश्योरेंस सॉल्यूशन दे रहे हैं जैसे - सुरक्षा, पेंशन, सेविंग्स, इन्वेस्टमेंट, एन्युटी और हेल्थ.

Term Insurance Popular Search

लोकप्रिय खोजें

  1. उपरोक्त जानका‍रियां वर्तमान इनकम-टैक्स कानून पर निर्भर हैं. टैक्स लाभ, टैक्स कानूनों में बदलाव के अधीन हैं.
  2. इनकम टैक्स एक्ट, 1961 के सेक्शन 80C के तहत निर्धारित शर्तों के अधीन. कस्टमर से अनुरोध है कि इनकम टैक्स कानून के तहत आने वाली अपनी पर्सनल टैक्स देयताओं के संबंध में अपने चार्टर्ड अकाउंटेंट से या पर्सनल टैक्स सलाहकार से सलाह लें.
  3. सेक्शन 10(10D), कीमैन बीमा, LTRP और नियोक्ता-कर्मचारी पॉलिसी के तहत जारी पॉलिसी को कवर नहीं करता है.

इस विवरण द्वारा किसी भी फाइनेंशियल इंस्ट्रूमेंट की खरीद या बिक्री के लिए किसी प्रकार का ऑफर या अनुरोध नहीं किया जा रहा है या किसी ट्रांजैक्शन का आधिकारिक कन्फर्मेशन नहीं दिया जा रहा है. विवरण की वजह से अनजाने में होने वाले नुकसान के लिए के लिए एच डी एफ सी लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड या इसके किसी भी सहयोगी/ग्रुप की कंपनियां किसी भी तरह से ज़िम्मेदार नहीं होंगी.

यह जानकारी केवल आपकी सहायता/आपको सूचना देने के लिए है और इसका उद्देश्य यह नहीं है कि इन्वेस्टमेंट का निर्णय ("जानकारी") लेते समय इसे या केवल इसे ही आधार माना जाए. इस जानकारी के किसी भी प्रकार के उपयोग से जुड़े रिस्क को प्राप्तकर्ता/ यूज़र समझते हैं. इस विवरण के प्रत्येक प्राप्तकर्ता/यूज़र को इन्वेस्टमेंट करते समय खुद से जांच करने के बाद ही किसी नतीजे पर पहुंचना चाहिए, और ऐसे इन्वेस्टमेंट के फायदे और जोखिम को निर्धारित करने के लिए अपने सलाहकारों से परामर्श करना चाहिए. जिन इन्वेस्टमेंट की चर्चा की गई है या जो राय साझा की गई है, वह सभी इन्वेस्टर के लिए उपयुक्त हो, ऐसा ज़रूरी नहीं है. एच डी एफ सी और इसकी सहयोगी, ग्रुप कंपनियां, सेल्स स्टाफ, फाइनेंशियल कंसल्टेंट, ऑफिसर, डायरेक्टर और कर्मचारियों में से किसी भी सुझाव, संबंधित जानकारी या राय के संबंध में उनका निर्णय उनकी रुचि के अनुकूल प्रभावित हो सकता है.

इस जानकारी को किसी अन्य व्यक्ति को प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से पुन: प्रस्तुत या पुनर्वितरित या प्रदान नहीं करना चाहिए या पूर्ण या आंशिक रूप से किसी भी उद्देश्य के लिए प्रकाशित, कॉपी नहीं किया जाना चाहिए. यह जानकारी किसी ऐसे व्यक्ति या संस्थान को देने के लिए या वितरण करने या उनके द्वारा उपयोग किए जाने के लिए नहीं है, जो किसी ऐसे क्षेत्र, राज्य, देश या अन्य अधिकार क्षेत्र का नागरिक या निवासी है या ऐसे क्षेत्र में स्थित है, जहां इस तरह के वितरण, प्रकाशन, उपलब्धता या उपयोग, कानून, विनियम के विरुद्ध होगा, या ऐसे अधिकार क्षेत्र के अंतर्गत एच डी एफ सी और उसके सहयोगी/ ग्रुप की कंपनियों को कोई रजिस्ट्रेशन या लाइसेंस की ज़रूरत होगी. कुछ अधिकार क्षेत्रों में इस जानकारी का वितरण कानून द्वारा प्रतिबंधित किया जा सकता है, और जिन व्यक्तियों के पास यह जानकारी होती है, उन्हें इस तरह के प्रतिबंधों के बारे में पूरी जानकारी रखनी चाहिए और उसका ध्यान रखना चाहिए. इस विवरण में दी गई जानकारी इस रिपोर्ट की तिथि के अनुसार है और इस बात का कोई गारंटी नहीं है कि भविष्य के परिणाम इस जानकारी के अनुसार ही होंगे. इस जानकारी में बिना किसी पूर्व सूचना के बदलाव किया जा सकता है. ज़रूरत पड़ने पर, एच डी एफ सी समय-समय पर इस विवरण में संशोधन और बदलाव करने का अधिकार सुरक्षित रखता है. एच डी एफ सी पर जानकारी को अपडेट करने या अपडेट रखने का कोई दायित्व नहीं है.

एच डी एफ सी लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड या उसका कोई भी सहयोगी, ग्रुप की कंपनियां, निदेशक, कर्मचारी, सेल्स स्टाफ, फाइनेंशियल सलाहकार या प्रतिनिधि किसी भी नुकसान के लिए जिम्मेदार नहीं होंगे, चाहे वह नुकसान प्रत्यक्ष, अप्रत्यक्ष, विशेष या परिणामी हो, जिसमें स्वास्थ्य, शारीरिक कुशलता, रेवेन्यू या लाभ में नुकसान होना शामिल है, और इस नुकसान का कारण इन्फॉर्मेशन का उपयोग हो सकता है या फिर उससे जुड़ा हो सकता है. यह जरूरी नहीं है कि पिछला प्रदर्शन भविष्य में दोहराया जाए.

*लाइफ ऑप्शन के लिए ऑनलाइन प्रीमियम, धूम्रपान नहीं करने वाले, 20 वर्ष की आयु वाले पुरुषों के लिए है, जो नियमित भुगतान, मासिक फ्रीक्वेंसी के तहत 40 वर्ष की पॉलिसी अवधि के लिए है, जिसमें लागू टैक्स और शुल्क शामिल नहीं हैं, जैसा लागू हो.

**7% ऑनलाइन डिस्काउंट केवल 1st वर्ष के प्रीमियम पर उपलब्ध है!

ARN: ED/12/23/7261-HI