• वेबपेज
  • डॉक्यूमेंट
  • एच डी एफ सी लाइफ क्लासिकएश्योर प्लसइन्वेस्टमेंट
  • एच डी एफ सी लाइफ क्लासिकएश्योर प्लसइन्वेस्टमेंट
  • एच डी एफ सी लाइफ क्लासिकएश्योर प्लसइन्वेस्टमेंट

NRI कस्टमर्स के लिए

(पॉलिसी खरीदने के लिए)

(अगर आप हमारे मौजूदा कस्टमर हैं)
  • Contact Image

    कॉल (सोम-शनि, 10am-9pm IST, लोकल कॉल शुल्क लागू)

    +91-8916694100

  • Contact Image

    ईमेल आईडी

    [email protected]

ऑनलाइन पॉलिसी खरीदने के लिए

(नए और जारी एप्लीकेशन)

ब्रांच खोजें

मौजूदा कस्टमर के लिए

(जारी की गई पॉलिसी)

फंड परफॉर्मेंस चेक करें

67,788 बार देखा गया

इस प्रोडक्ट को रेटिंग दें

एच डी एफ सी लाइफ क्लिक 2 प्रोटेक्ट लाइफ को क्यों चुनें?

एक नॉन-लिंक्ड, नॉन-पार्टिसिपेटिंग, इंडिविजुअल, प्योर रिस्क प्रीमियम / सेविंग्स लाइफ इंश्योरेंस प्लान

Why HDFC Life Click 2 Protect Life
  • 99.39% क्लेम सेटलमेंट रेशियो का भरोसा1

  • दुर्घटना में मृत्यु पर अतिरिक्त सम अश्योर्ड पाएं (ADB विकल्प के माध्यम से)2

  • रिटर्न ऑफ प्रीमियम विकल्प के साथ मेच्योरिटी तक जीवित रहने पर आपके द्वारा चुकाए गए सभी प्रीमियम को वापस पाएं3

  • गंभीर बीमारी का पता चलने पर प्रीमियम की छूट का लाभ उठाएं (WOP CI विकल्प के माध्यम से)2

  • लागू टैक्स नियमों के अनुसार टैक्स लाभ4

  • महिलाओं और तंबाकू नहीं खाने वाले लोगों के लिए विशेष प्रीमियम दरें.

  • 99.39% क्लेम सेटलमेंट रेशियो का भरोसा1

  • दुर्घटना में मृत्यु पर अतिरिक्त सम अश्योर्ड पाएं (ADB विकल्प के माध्यम से)2

  • रिटर्न ऑफ प्रीमियम विकल्प के साथ मेच्योरिटी तक जीवित रहने पर आपके द्वारा चुकाए गए सभी प्रीमियम को वापस पाएं3

  • गंभीर बीमारी का पता चलने पर प्रीमियम की छूट का लाभ उठाएं (WOP CI विकल्प के माध्यम से)2

  • लागू टैक्स नियमों के अनुसार टैक्स लाभ4

  • महिलाओं और तंबाकू नहीं खाने वाले लोगों के लिए विशेष प्रीमियम दरें.

Why HDFC Life Click 2 Protect Life
  1. FY 2022-23 के ऑडिटेड वार्षिक आंकड़ों के अनुसार इंडिविजुअल डेथ क्लेम सेटलमेंट रेशियो पॉलिसी की संख्या पर निकाला गया है.
  2. क्रिटिकल इलनेस (CI) के डायग्नोसिस पर प्रीमियम की छूट (WoP), लाइफ और CI रीबैलेंस विकल्प के तहत एक इनबिल्ट सुविधा के तौर पर उपलब्ध है और इसके लिए लाइफ प्रोटेक्ट विकल्प (फिक्स्ड टर्म वेरिएंट) के अंतर्गत अतिरिक्त प्रीमियम का भुगतान करना होगा. एक्सीडेंटल डेथ बेनिफिट (ADB) का विकल्प, लाइफ प्रोटेक्ट विकल्प के तहत अतिरिक्त प्रीमियम के भुगतान पर उपलब्ध है.
  3. इनकम प्लस विकल्प के तहत इनबिल्ट सुविधा के रूप में उपलब्ध और लाइफ प्रोटेक्ट विकल्प (फिक्स्ड टर्म वेरिएंट) और लाइफ और CI रिबैलेंस विकल्प के तहत अतिरिक्त प्रीमियम के भुगतान पर उपलब्ध.
  4. इनकम टैक्स एक्ट, 1961 के अनुसार. टैक्स लाभ टैक्स नियमों में बदलाव के अधीन हैं.
  1. FY 2022-23 के ऑडिटेड वार्षिक आंकड़ों के अनुसार इंडिविजुअल डेथ क्लेम सेटलमेंट रेशियो पॉलिसी की संख्या पर निकाला गया है.
  2. क्रिटिकल इलनेस (CI) के डायग्नोसिस पर प्रीमियम की छूट (WoP), लाइफ और CI रीबैलेंस विकल्प के तहत एक इनबिल्ट सुविधा के तौर पर उपलब्ध है और इसके लिए लाइफ प्रोटेक्ट विकल्प (फिक्स्ड टर्म वेरिएंट) के अंतर्गत अतिरिक्त प्रीमियम का भुगतान करना होगा. एक्सीडेंटल डेथ बेनिफिट (ADB) का विकल्प, लाइफ प्रोटेक्ट विकल्प के तहत अतिरिक्त प्रीमियम के भुगतान पर उपलब्ध है.
  3. इनकम प्लस विकल्प के तहत इनबिल्ट सुविधा के रूप में उपलब्ध और लाइफ प्रोटेक्ट विकल्प (फिक्स्ड टर्म वेरिएंट) और लाइफ और CI रिबैलेंस विकल्प के तहत अतिरिक्त प्रीमियम के भुगतान पर उपलब्ध.
  4. इनकम टैक्स एक्ट, 1961 के अनुसार. टैक्स लाभ टैक्स नियमों में बदलाव के अधीन हैं.

आपका प्लान. आपके लाभ

अपनी पॉलिसी और प्रीमियम भुगतान की अवधि चुनने की सुविधा.

बीमा कवर खरीदने का अपना मुख्य उद्देश्य चुनें

  • बेसिक लाइफ कवर
  • लाइफ कवर + क्रिटिकल इलनेस कवर
  • लाइफ कवर + रेगुलर इनकम

बेसिक लाइफ कवर

एक सामान्य जीवन बीमा कवर

पात्रता मापदंड चेक करें

एच डी एफ सी लाइफ क्लिक 2 प्रोटेक्ट लाइफ खरीदने से पहले

पात्रता मापदंड

प्लान ऑप्शन

लाइफ और CI रीबैलेंस

लाइफ प्रोटेक्ट

इनकम प्लस

निश्चित अवधि

पूरा जीवन

निश्चित अवधि

पूरा जीवन

प्रवेश के समय न्यूनतम आयु

18 वर्ष

18 वर्ष

45 वर्ष

30 वर्ष

45 वर्ष

प्रवेश के समय अधिकतम आयु

65 वर्ष

      गैर-PoS के लिए 65 वर्ष

       PoS के लिए 60 वर्ष

65 वर्ष

50 वर्ष

10 भुगतान: 50 वर्ष

सिंगल पे,

 5 भुगतान: 55 वर्ष

मेच्योरिटी पर न्यूनतम आयु

28 वर्ष

गैर-PoS के लिए 18 वर्ष

       PoS के लिए 23 वर्ष

जीवन भर के लिए

70 वर्ष

जीवन भर के लिए

मेच्योरिटी पर अधिकतम आयु

75 वर्ष

    गैर-PoS के लिए 85 वर्ष

PoS के लिए 65 वर्ष

जीवन भर के लिए

85 वर्ष

जीवन भर के लिए

न्यूनतम पॉलिसी अवधि

10 वर्ष

सिंगल पे : 

नॉन-PoS के लिए 1 महीने

PoS के लिए 5 वर्ष

रेगुलर पे : 5 वर्ष

लिमिटेड पे : 6 वर्ष

जीवन भर के लिए

70 वर्ष - प्रवेश के समय आयु

जीवन भर के लिए

अधिकतम पॉलिसी अवधि

30 वर्ष

     85 वर्ष - नॉन-PoS के लिए प्रवेश के समय आयु

65 वर्ष - PoS के लिए प्रवेश के समय आयु

जीवन भर के लिए

40 वर्ष

जीवन भर के लिए

प्रीमियम भुगतान की अवधि

सिंगल पे, रेगुलर पे, लिमिटेड पे (PT से कम किसी भी PPT के लिए 5)

लिमिटेड पे (5, 10, 15 भुगतान)

सिंगल पे, लिमिटेड पे (5, 10 भुगतान)

न्यूनतम बेसिक सम अश्योर्ड

₹ 20,00,000

₹ 50,000

अधिकतम बेसिक सम अश्योर्ड

कोई लिमिट नहीं, बोर्ड अप्रूव्ड अंडरराइटिंग पॉलिसी (BAUP) के अधीन


सभी आयु पिछले जन्मदिन के अनुसार बताई गई हैं. सभी आयु के लिए, कॉन्ट्रैक्ट शुरू होने की तिथि से जोखिम शुरू हो जाता है. कृपया निर्णय लेने से पहले जोखिम कारकों, नियमों और शर्तों के बारे में अधिक जानकारी के लिए, प्रोडक्ट के ब्रोशर को ध्यान से पढ़ें और/या फाइनेंशियल सलाहकार से सलाह लें

आपके लिए हमने आसान बना दिया है टर्म प्लान!

हमारे टर्म प्लान के बारे में जानने के लिए यह वीडियो देखें.


Youtube

राइडर के बिना टर्म इंश्योरेंस अधूरा है

अचानक से होने वाली किसी भी समस्या से निपटने के लिए बीमा में राइडर की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण होती है.
  • icon

    एच डी एफ सी लाइफ इनकम बेनिफिट ऑन एक्सीडेंटल डिसेबिलिटी राइडर

    UIN: 101B013V03

    दुर्घटना के कारण पूर्ण स्थायी विकलांगता की स्थिति में अपने सम अश्योर्ड से अधिक अतिरिक्त इनकम लाभ प्राप्त करें

    डाउनलोड करें
  • icon

    एच डी एफ सी लाइफ क्रिटिकल इलनेस प्लस राइडर

    UIN: 101B014V02

    अगर बताई गई गंभीर बीमारियों में से कोई भी बीमारी डायग्नोस होती है, तो हम सम अश्योर्ड के बराबर एकमुश्त राशि का अपफ्रंट भुगतान करते हैं

    डाउनलोड करें
  • icon

    एच डी एफ सी लाइफ प्रोटेक्ट प्लस राइडर

    UIN:101B016V01

    दुर्घटना के कारण मृत्यु या दुर्घटना के कारण आंशिक/पूर्ण विकलांगता या कैंसर डायग्नोसिस होने पर राइडर सम अश्योर्ड के एक हिस्से के साथ सुरक्षा प्राप्त करें.

    डाउनलोड करें
  • icon

    एच डी एफ सी लाइफ हेल्थ प्लस राइडर - नॉन-लिंक्ड

    UIN: 101NB031V01

    कवर की गई 60 गंभीर बीमारियों में से किसी भी बीमारी के डायग्नोसिस पर राइडर सम अश्योर्ड के बराबर एकमुश्त लाभ पाएं या शुरुआती चरण के कैंसर/ मेजर कैंसर के डायग्नोसिस पर चुने गए प्लान विकल्प के आधार पर राइडर सम अश्योर्ड का आनुपातिक लाभ पाएं.

    डाउनलोड करें

पर्सनल जानकारी

वर्ष
वर्ष

फाइनेंशियल विवरण

आपके परिवार के भविष्य की सुरक्षा के लिए आवश्यक जीवन बीमा यह हैः

0

यहां दिखाए गए वैल्यू केवल उदाहरण के लिए हैं. प्रदान की गई जानकारी के आधार पर परिणाम उत्पन्न किए जाते हैं. इसका उद्देश्य इन्वेस्टमेंट संबंधी निर्णय का आधार बनना नहीं है और केवल इसके आधार पर इन्वेस्टमेंट नहीं करना चाहिए.
Talk to Advisor

समझ नहीं आ रहा कि कौन सा बीमा लें?

एडवाइज़र से
अभी बात करें

Talk to Advisor

हम आपकी ज़रूरतों के आधार पर सबसे उत्तम बीमा प्लान चुनने में आपकी मदद करते हैं

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

हम आपको एच डी एफ सी लाइफ क्लिक2प्रोटेक्ट लाइफ के बारे में सब कुछ बताएंगे

1 इस प्रोडक्ट के लिए कौन से प्लान विकल्प उपलब्ध हैं?

इस प्रोडक्ट के लिए ये 3 प्लान विकल्प उपलब्ध हैं:

  • लाइफ प्रोटेक्ट विकल्प: यह विकल्प आपके परिवार को बेसिक सुरक्षा प्रदान करता है और पॉलिसी अवधि के दौरान मृत्यु होने पर एकमुश्त राशि (लाइफ कवर) प्रदान करता है. लाइफ कवर, पूरी पॉलिसी अवधि के दौरान समान रहता है.

  • लाइफ और CI रीबैलेंस विकल्प: यह एक स्मार्ट कवर है, जिसका उद्देश्य मृत्यु और गंभीर बीमारी के समय दिए जाने वाले लाभों के बीच संतुलन बनाना है, ठीक वैसे ही जैसे आप अपने जीवन में बनाते हैं. पॉलिसी की प्रत्येक एनिवर्सरी पर क्रिटिकल इलनेस कवर बढ़ जाता है और उतनी ही राशि से लाइफ कवर कम हो जाता है. इसके अलावा, इसमें कवर की गई किसी भी गंभीर बीमारी का पता चलने पर भविष्य के सभी प्रीमियम माफ कर दिए जाते हैं और लाइफ कवर जारी रहता है.

  • इनकम प्लस विकल्प: इस प्लान विकल्प के तहत, बीमित व्यक्ति को पॉलिसी की पूरी अवधि तक कवर किया जाता है और उसे 60 वर्ष की आयु से शुरू होने वाली नियमित इनकम प्रदान करने के साथ-साथ मेच्योरिटी पर एकमुश्त राशि का भुगतान भी किया जाता है.

2 इस प्लान के लिए प्रीमियम का भुगतान करने की फ्रीक्वेंसी क्या है?

इस प्रोडक्ट के लिए सिंगल, वार्षिक, अर्धवार्षिक, त्रैमासिक और मासिक फ्रीक्वेंसी उपलब्ध हैं.

3 क्या इस प्लान में कोई मेच्योरिटी बेनिफिट मिलता है?

हां, इनकम प्लस विकल्प के तहत, मेच्योरिटी तक जीवित रहने पर, आपको कुल प्रीमियम1 का 100% रिटर्न एकमुश्त मिलेगा. यह इस विकल्प का इन-बिल्ट फीचर है.

अन्य प्लान विकल्पों (लाइफ और CI रीबैलेंस, लाइफ प्रोटेक्ट) के लिए, आपको मेच्योरिटी तक जीवित रहने पर, एकमुश्त के रूप में भुगतान किए गए कुल प्रीमियम का 100% रिटर्न प्राप्त करने के लिए, चुने गए बेस प्लान के लिए देय प्रीमियम के अतिरिक्त प्रीमियम का भुगतान करना होगा (प्रीमियम रिटर्न के ऐड-ऑन विकल्प के तहत उपलब्ध).

यह मेच्योरिटी लाभ इसके लिए उपलब्ध होगा:

सिंगल, रेगुलर और '5 पे' के लिए 10 से 40 वर्ष के बीच की अवधि वाली सभी पॉलिसी.
'8, 10 और 12 पे' के लिए 15 से 40 वर्ष के बीच की अवधि वाली सभी पॉलिसी

  1. भुगतान किए गए कुल प्रीमियम का मतलब है प्राप्त होने वाले कुल प्रीमियम, जिनमें कोई भी अतिरिक्त प्रीमियम, कोई भी राइडर प्रीमियम और टैक्स शामिल नहीं हैं. अगर ROP का विकल्प चुना गया है, तो भुगतान किए गए कुल प्रीमियम में बेस प्लान विकल्प के लिए भुगतान किए गए प्रीमियम और ROP विकल्प के लिए भुगतान किए गए अतिरिक्त प्रीमियम शामिल होंगे.

4 क्या लाइफ प्रोटेक्ट विकल्प के तहत मृत्यु पर कोई लाभ मिलता है?

हां, अगर पॉलिसी अवधि के दौरान आपकी मृत्यु हो जाती है, तो आपके नॉमिनी को एकमुश्त राशि के रूप में "डेथ बेनिफिट" का भुगतान किया जाता है. यह इनमें से जो अधिक हो, उसके बराबर होगा:

  • मृत्यु पर सम अश्योर्ड

  • भुगतान किए गए कुल प्रीमियम1 का 105%

    सिंगल पे (SP) के लिए मृत्यु होने पर दिया जाने वाला सम अश्योर्ड इनमें से सबसे अधिक के बराबर होगा:

  • सिंगल प्रीमियम का 125%

  • मेच्योरिटी पर सम अश्योर्ड

  • बेसिक सम अश्योर्ड

    सिंगल पे (लिमिटेड पे और रेगुलर पे) के अलावा, मृत्यु पर मिलने वाला सम अश्योर्ड इनमें से सबसे अधिक के बराबर होगा:

  • वार्षिक प्रीमियम का 10 गुना

  • मेच्योरिटी पर सम अश्योर्ड

  • बेसिक सम अश्योर्ड

    - 'लिमिटेड पे' का अर्थ है, प्रीमियम भुगतान की अवधि, पॉलिसी की अवधि से कम होगी

    - 'रेगुलर पे' का अर्थ है, प्रीमियम भुगतान की अवधि, पॉलिसी की अवधि के बराबर होगी

    1भुगतान किए गए कुल प्रीमियम का मतलब है प्राप्त होने वाले कुल प्रीमियम का जोड़, जिसमें कोई भी अतिरिक्त प्रीमियम, कोई भी राइडर प्रीमियम और टैक्स शामिल नहीं हैं. अगर ROP का विकल्प चुना गया है, तो भुगतान किए गए कुल प्रीमियम में बेस प्लान विकल्प के लिए भुगतान किए गए प्रीमियम और ROP विकल्प के लिए भुगतान किए गए अतिरिक्त प्रीमियम शामिल होंगे.

5 क्या लाइफ और CI रीबैलेंस प्लान के तहत मृत्यु पर कोई लाभ मिलता है?

 

हां, अगर पॉलिसी की अवधि के दौरान आपकी मृत्यु हो जाती है, तो आपके नॉमिनी को "डेथ बेनिफिट" का भुगतान एकमुश्त राशि के रूप में किया जाता है. यह इनमें से सबसे अधिक के बराबर होगी:

 

  • मृत्यु पर सम अश्योर्ड

  • भुगतान किए गए कुल प्रीमियम का 105%1

  • लाइफ कवर सम अश्योर्ड

    सिंगल पे (SP) के लिए मृत्यु होने पर दिया जाने वाला सम अश्योर्ड इनमें से जो अधिक हो, उसके बराबर होगा:

  • सिंगल प्रीमियम का 125%

  • मेच्योरिटी पर सम अश्योर्ड

    सिंगल पे (लिमिटेड पे और रेगुलर पे) के अलावा, मृत्यु पर मिलने वाला सम अश्योर्ड इनमें से जो अधिक हो, उसके बराबर होगा:

  • वार्षिक प्रीमियम का 10 गुना

  • मेच्योरिटी पर सम अश्योर्ड

    - 'लिमिटेड पे' का अर्थ है, प्रीमियम भुगतान की अवधि, पॉलिसी की अवधि से कम होगी

    - 'रेगुलर पे' का अर्थ है, प्रीमियम भुगतान की अवधि, पॉलिसी की अवधि के बराबर होगी

    1भुगतान किए गए कुल प्रीमियम का मतलब है प्राप्त होने वाले कुल प्रीमियम का जोड़, जिसमें कोई भी अतिरिक्त प्रीमियम, कोई भी राइडर प्रीमियम और टैक्स शामिल नहीं हैं. अगर ROP का विकल्प चुना गया है, तो भुगतान किए गए कुल प्रीमियम में बेस प्लान विकल्प के लिए भुगतान किए गए प्रीमियम और ROP विकल्प के लिए भुगतान किए गए अतिरिक्त प्रीमियम शामिल होंगे.

6 क्या इनकम प्लस प्लान के तहत मृत्यु पर कोई लाभ मिलता है?

हां, अगर पॉलिसी अवधि के दौरान आपकी मृत्यु हो जाती है, तो आपके नॉमिनी को एकमुश्त राशि के रूप में "डेथ बेनिफिट" का भुगतान किया जाता है. यह इनमें से जो अधिक हो, उसके बराबर होगा:

  • मृत्यु पर सम अश्योर्ड

  • भुगतान किए गए कुल प्रीमियम1 का 105%

    इसमें से मृत्यु की तिथि तक भुगतान किए गए कुल सर्वाइवल लाभ घटा दिए जाएंगे

    सिंगल पे (SP) के लिए मृत्यु होने पर दिया जाने वाला सम अश्योर्ड इनमें से सबसे अधिक के बराबर होगा:

  • सिंगल प्रीमियम का 125%

  • मेच्योरिटी पर सम अश्योर्ड

  • बेसिक सम अश्योर्ड

    सिंगल पे (लिमिटेड पे और रेगुलर पे) के अलावा, मृत्यु पर मिलने वाला सम अश्योर्ड इनमें से सबसे अधिक के बराबर होगा:

  • वार्षिक प्रीमियम का 10 गुना

  • मेच्योरिटी पर सम अश्योर्ड

  • बेसिक सम अश्योर्ड

    - 'लिमिटेड पे' का अर्थ है, प्रीमियम भुगतान की अवधि, पॉलिसी की अवधि से कम होगी

    - 'रेगुलर पे' का अर्थ है, प्रीमियम भुगतान की अवधि, पॉलिसी की अवधि के बराबर होगी

    1भुगतान किए गए कुल प्रीमियम का मतलब है प्राप्त होने वाले कुल प्रीमियम का जोड़, जिसमें कोई भी अतिरिक्त प्रीमियम, कोई भी राइडर प्रीमियम और टैक्स शामिल नहीं हैं. अगर ROP का विकल्प चुना गया है, तो भुगतान किए गए कुल प्रीमियम में बेस प्लान विकल्प के लिए भुगतान किए गए प्रीमियम और ROP विकल्प के लिए भुगतान किए गए अतिरिक्त प्रीमियम शामिल होंगे.

7 गंभीर बीमारी या क्रिटिकल इलनेस क्या है और इस प्रोडक्ट के तहत कितनी तरह की गंभीर बीमारियों को कवर किया जाता है?

गंभीर बीमारी का अर्थ है वह बीमारी, जिसके संकेत या लक्षण इस कॉन्ट्रैक्ट के जारी होने की तिथि या शुरू होने की तिथि या इस कॉन्ट्रैक्ट के किसी रीइंस्टेटमेंट की तिथि, जो भी सबसे हाल की हो, उससे 90 से ज़्यादा दिनों के बाद पहली बार दिखे हों और इसमें या तो निम्नलिखित में से किसी भी बीमारी का पहली बार डायग्नोसिस या नीचे बताई गई और कवर की जाने वाली किसी भी सर्जरी को शामिल किया जाएगा, जो पहली बार की जा रही हो:

कवर की गई गंभीर बीमारियों की सूची:

1.विशिष्ट गंभीरता का कैंसर

2. मायोकार्डियल इन्फार्क्शन - विशिष्ट गंभीरता का पहला दिल का दौरा

3. ओपन हार्ट रिप्लेसमेंट या हार्ट वाल्व रिपेयर

4.किडनी फेल होने पर नियमित डायलिसिस की आवश्यकता

5. प्रमुख अंग/ बोन मैरो ट्रांसप्लांट

6. कोरोनरी आर्टरी बायपास ग्राफ्ट (ओपन, की-होल या न्यूनतम इनवेसिव या रोबोटिक कार्डियक CABG)

7.लगातार लक्षणों वाला मल्टिपल स्केलेरोसिस

8. स्ट्रोक के परिणामस्वरूप स्थायी लक्षण

9. विशिष्ट गंभीरता वाला कोमा

10.अंगों की स्थायी क्षति

11. स्थायी लक्षणों के साथ मोटर न्यूरॉन बीमारी

12. बेनाइन ब्रेन ट्यूमर

13.अंधापन

14. बहरापन

15. एंड स्टेज लंग फेलियर

16. एंड स्टेज लिवर फेलियर

17. गूंगापन होना

18. अंगों का नुकसान

19.मेजर हेड ट्रॉमा

20. प्राइमरी (इडियोपैथिक) पल्मोनरी हाइपरटेंशन

21. थर्ड डिग्री बर्न

22.अल्ज़ाइमर की बीमारी

23. एप्लास्टिक एनीमिया

24. मेडुलेरी सिस्टिक किडनी रोग

25.पार्किंसंस रोग

26. ल्यूपस नेफ्राइटिस के साथ सिस्टेमिक ल्यूपस एरिथेमेटोसस (SLE)

27. एपैलिक सिंड्रोम

28. एओर्टा (मुख्य धमनी) की प्रमुख सर्जरी

29. ब्रेन सर्जरी

30. फुलमिनेंट वायरल हेपेटाइटिस

31.कार्डियोमायोपैथी

32. मस्क्यूलर डिस्ट्रोफी

33. पोलियो

34.न्यूमोनेक्टोमी

35. गंभीर रूमेटॉइड आर्थराइटिस

36. प्रोग्रेसिव स्क्लेरोडर्मा

प्रत्येक गंभीर बीमारी के बारे में अधिक जानने के लिए, प्रोडक्ट ब्रोशर देखें.

8 क्या किसी गंभीर बीमारी का पता चलने पर कोई लाभ दिए जाते हैं?

 लाइफ और CI रीबैलेंस विकल्प के तहत, किसी गंभीर बीमारी का पता चलने पर प्रीमियम की छूट मिलना एक इन-बिल्ट फीचर है. इसके अलावा, इस प्लान विकल्प के तहत गंभीर बीमारी के इलाज के लिए एकमुश्त राशि भी दी जाती है.
लाइफ प्रोटेक्ट विकल्प के तहत, यह लाभ CI (WOP CI ऐड ऑन विकल्प) पर प्रीमियम के भुगतान में छूट के रूप में उपलब्ध है. अगर आप इस ऐड-ऑन विकल्प को चुनते हैं, तो आपमें इस प्लान के तहत कवर की गई कोई भी गंभीर बीमारी डायग्नोस होने पर, भविष्य के सभी प्रीमियम माफ कर दिए जाएंगे. यह विकल्प केवल तभी उपलब्ध होगा जब PPT कम से कम 5 वर्ष हो और लाइफ प्रोटेक्ट विकल्प को फिक्स्ड टर्म के साथ चुना गया हो. अगर यह ऐड-ऑन विकल्प चुना जाता है, तो इसके लिए अतिरिक्त प्रीमियम का भुगतान करना होगा.

9 "एक्सीडेंटल डेथ बेनिफिट" में एक्सीडेंट या दुर्घटना की परिभाषा क्या है?

एक्सीडेंट या दुर्घटना, एक ऐसी घटना होती है जो बाहरी, स्पष्ट और हिंसक माध्यमों से अचानक, अप्रत्याशित और अनैच्छिक तौर पर होती है. एक्सीडेंटल डेथ का अर्थ है, ऐसी मृत्यु जो दुर्घटना के कारण आने वाली शारीरिक चोट की वजह से हुई हो, और मृत्यु होने का कोई और कारण न हो. किसी भी तरह की शारीरिक चोट लगने के 180 दिनों के भीतर होने वाली मृत्यु को ही एक्सीडेंटल डेथ माना जाता है.

“"एक्सीडेंटल डेथ" का अर्थ है ऐसी मृत्यु:

  • जो दुर्घटना के कारण लगने वाली शारीरिक चोट के कारण हुई हो और

  • जो पूरी तरह से, सीधे तौर पर उसी दुर्घटना के कारण आई शारीरिक चोट की वजह से हुई हो, और मृत्यु का कोई और कारण न हो

  • जो ऐसी दुर्घटना होने के 180 दिनों के भीतर हो, लेकिन कवर खत्म होने से पहले हो और

  • जो किसी ऐसे कारण से न हुई हो, जिसे एक्सीडेंटल डेथ बेनिफिट के तहत लिस्ट में दर्ज नहीं किया गया हो

10 क्या दुर्घटना में मृत्यु पर कोई अतिरिक्त लाभ मिलता है?

हां, एक्सीडेंटल डेथ बेनिफिट (ADB) ऐड ऑन विकल्प के रूप में अतिरिक्त लाभ उपलब्ध है. अगर आप इस ऐड-ऑन विकल्प को चुनते हैं, तो पॉलिसी की अवधि के दौरान दुर्घटना के कारण आपकी मृत्यु होने पर बेसिक सम अश्योर्ड के 100% के बराबर अतिरिक्त राशि नॉमिनी को दी जाएगी. यह विकल्प केवल तभी उपलब्ध होगा, जब लाइफ प्रोटेक्ट का विकल्प चुना गया हो. अगर यह ऐड-ऑन विकल्प चुना जाता है, तो अतिरिक्त प्रीमियम देना होगा.

11 क्या लाइफ और CI रीबैलेंस विकल्प के तहत मेरा सम अश्योर्ड बदल जाएगा?

पॉलिसी की प्रत्येक एनिवर्सरी पर क्रिटिकल इलनेस कवर बढ़ जाता है और उतनी राशि लाइफ कवर से कम हो जाती है.

कवर की शुरुआत में, लाइफ कवर SA को बेसिक सम अश्योर्ड के 80% पर सेट किया जाता है और CI SA को बेसिक सम अश्योर्ड के 20% पर सेट किया जाता है. प्रभावी पॉलिसी के लिए, पॉलिसी की पहली एनिवर्सरी से प्रत्येक पॉलिसी एनिवर्सरी पर CI SA हर साल बढ़ेगा और दूसरी ओर लाइफ कवर SA उतनी ही राशि से कम होगा. इस राशि की गणना इस प्रकार की जाएगी:

30% X बेसिक सम अश्योर्ड ÷ पॉलिसी की अवधि.

बेसिक सम अश्योर्ड (लाइफ कवर SA + CI SA), पूरी पॉलिसी अवधि के दौरान समान रहेगा.

क्रिटिकल इलनेस क्लेम किए जाने के बाद, लाइफ कवर SA, उस समय लागू होने वाले स्तर पर फिक्स कर दिया जाएगा और पॉलिसी अवधि के अंत तक वही SA बना रहेगा.

12 एच डी एफ सी लाइफ क्लिक 2 प्रोटेक्ट लाइफ इंश्योरेंस प्लान क्यों चुनें?

क्या आप खुद को इंश्योर करने और अपने प्रियजनों की खुशियों को सुरक्षित करने का कोई आसान तरीका ढूंढ रहे हैं? आप जानते हैं कि इसका समाधान एक टर्म इंश्योरेंस प्लान है और आपको एक ऐसा प्लान चुनना चाहिए जिसे खरीदना सुविधाजनक हो और जो किफायती भी हो. एच डी एफ सी लाइफ क्लिक 2 प्रोटेक्ट लाइफ इंश्योरेंस प्लान आपके परिवार को एक कॉम्प्रिहेंसिव फाइनेंशियल सुरक्षा प्रदान करता है, पूरे जीवन* के लिए कवर प्राप्त करने का विकल्प देता है, व प्रीमियम रिटर्न विकल्प** के साथ मेच्योरिटी तक जीवित रहने पर भुगतान किए गए सभी प्रीमियम को वापस पाने की सुविधा के साथ-साथ कई अन्य लाभ भी प्रदान करता है.

*केवल लाइफ प्रोटेक्ट और इनकम प्लस विकल्पों के तहत उपलब्ध

**इनकम प्लस विकल्प के तहत इनबिल्ट सुविधा के रूप में उपलब्ध और लाइफ प्रोटेक्ट विकल्प (फिक्स्ड टर्म वेरिएंट) और लाइफ और CI रिबैलेंस विकल्प के तहत अतिरिक्त प्रीमियम के भुगतान पर उपलब्ध.

13 क्या पॉलिसी जारी होने के बाद प्रीमियम भुगतान की अवधि को 'रेगुलर पे' से 'लिमिटेड पे' में बदला जा सकता है?

आपके पास बकाया रेगुलर प्रीमियम को बिना किसी शुल्क/ फीस के प्लान विकल्पों के तहत उपलब्ध किसी भी लिमिटेड प्रीमियम अवधि में बदलने का विकल्प है.

14 क्या पॉलिसी जारी होने के बाद मैं अपनी प्रीमियम फ्रीक्वेंसी बदल सकता/सकती हूं?

आप प्रीमियम भुगतान अवधि के दौरान बिना किसी शुल्क/फीस के प्रीमियम भुगतान की फ्रीक्वेंसी बदल सकते हैं.

15 क्या कुछ विशिष्ट चीज़ें हैं, जिन्हें इस प्लान में कवर नहीं किया जाएगा?

प्लान में कवर नहीं की जाने वाली चीज़ों की विस्तृत जानकारी के लिए, कृपया प्रोडक्ट ब्रोशर पढ़ें.

16 क्या यह प्लान टैक्स लाभ प्रदान करता है?

 इस प्लान के तहत किसी व्यक्ति या HUF द्वारा भुगतान किए गए प्रीमियम पर, इनकम टैक्स एक्ट, 1961 के सेक्शन 80C के तहत टैक्स लाभ मिलता है, जो उसमें बताई गई शर्तों/सीमाओं के अधीन है. इनकम टैक्स एक्ट, 1961 के सेक्शन 10 (10D) के तहत, इस पॉलिसी से प्राप्त लाभ टैक्स मुक्त होते हैं, जो एक्ट में निर्दिष्ट शर्तों के अधीन हैं.

कृपया ध्यान दें कि ऊपर बताए गए लाभ, टैक्स के मौजूदा नियमों के अनुसार हैं. अगर टैक्स के नियम बदलते हैं, तो आपको मिलने वाले टैक्स लाभ भी बदल सकते हैं. आपसे अनुरोध है कि आप अपने टैक्स सलाहकार से सलाह लें.

17 प्लान का विकल्प चुनने के बाद क्या उसे बदला जा सकता है?

नहीं, पॉलिसी की शुरुआत में चुने गए प्लान विकल्प को पूरी पॉलिसी अवधि के दौरान बदला नहीं जा सकता.

नियम और शर्तें लागू

  1. केवल लाइफ प्रोटेक्ट और इनकम प्लस विकल्पों के तहत उपलब्ध.
  2. इनकम प्लस विकल्प के तहत उपलब्ध है. बीमित व्यक्ति के 60वें जन्मदिन के बाद आने वाली पॉलिसी एनिवर्सरी से मासिक इनकम का भुगतान शुरू हो जाता है और यह बीमित व्यक्ति की मृत्यु होने या पॉलिसी की मेच्योरिटी पूरी होने तक जारी रहता है.

ARN: ED/08/23/4067-HI